• globalnewsnetin

अनिल विज का तर्क -राजनैतिक लोगों को कोरोना से अधिक खतरा


चंडीगढ़ (अदिति) हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज ने एक बेहद अलग तर्क देते हुए कहा कि नेता चाहे किसी भी पार्टी का हो, उसको संक्रमण का खतरा सबसे ज्यादा रहता है। ऐसे में उनके लिए भी स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग सिस्टम(एसओपी) बनना चाहिए। राजनैतिक लोगों के लिए ये बेहद जरुरी है ताकि उनके संक्रमित होने की संभावनाओं को कम किया जा सके। विज ने कहा कि ऐसा करना इसलिए आवश्यक है क्योंकि वो एक दिन में किसी सामान्य व्यक्ति की तुलना में कहीं ज्यादा लोगों से मिलते हैं। वहीं उन्होंने एक बार फिर दोहराया कि हरियाणा में बाहरी राज्यों के लोगों को इलाज के लिए कतई मना नहीं किया जाएगा। जो लोग यहां पहले ही हैं और वो बीमार पड़ जाते हैं तो उनको उनके राज्य वापस न भेजकर यहीं इलाज किया जाएगा। क्योंकि यही मानवीय पहलू है।

गृहमंत्री अनिल विज ने कहा कोरोना के मरीजों के इलाज को लेकर अपना रूख स्पष्ट करते हुए कहा कि ईलाज के लिए किसी को भी इनकार नहीं किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि हरियाणा में हर प्रदेश के लोग रह रहे हैं। हम हर व्यक्ति का इलाज करेंगे। विज ने कहा कि इस मामले मे अरविंद केजरीवाल का दृष्टिकोण ठीक नहीं है। इसके साथ उन्होंने केजरीवाल के स्वस्थ होने की कामना करते हुए कहा कि अरविंद केजरीवाल बीमार हैं, मैं चाहता हूँ वो जल्द ठीक हों। विज ने यह भी स्पष्ट किया कि वह दिल्ली के साथ लगती सीमाओं को खोलने के हमेशा विरोध मे रहे हैं लेकिन जनता की मांग पर केंद्र की गाईड लाईन को लागू करते हुए सीमाएं खोली गई हैं। विज ने कहा कि हम स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं और जरूरत पड़ी तो दोबारा से दिल्ली के साथ लगते बाॅर्डर सील करेंगे।

कबूतरबाजों को कतई नहीं बख्शेंगे

यूएस से डिपोर्ट किए गए हरियाणा के लोगों के बारे में विज ने कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि गलत तरीके से विदेश भेजने वालों को मैं कतई नहीं छोड़ूंगा। उन्होंने कहा कि मामले को लेकर बनी एसआईटी गहनता से जांच कर रही है। जिन कबूतरबाजों ने लोगों की मेहनत की कमाई ऐंठते हुए उनको गलत तरीके से समुंद्र, जंगल या किसी अन्य रास्ते से विदेश भेजा है, उनको सलाखों के पीछे डाला जाएगा।

नहीं हैं कम्युनिटी संक्रमण फिलहाल

वहीं गुरुग्राम में कम्युनिटी संक्रमण की संभावना को लेकर पूछे एक सवाल के जवाब में विज ने कहा कि ऐसा कुछ नहीं है। जो अधिकतर केस बढ़े हैं, या तो उनकी ट्रैवल हिस्ट्री है या फिर कांटेक्ट हिस्ट्री है। उन्होंने कहा कि हम बीमारी पर निंयत्रण को लेकर लगातार प्रयासरत हैं।

पार्टी बदलने वालों पर भी कटाक्ष

मंत्री अनिल विज ने दूसरी पार्टी के नेताओं द्वारा इनेलो ज्वाइन करने पर चुटकी लेते हुए कहा कि ये प्रवासी पक्षी हैं। ये इस डाल से उस डाल बैठते रहते हैं। ये आपस में ही घर-घर खेलते हैं।

 Global Newsletter

  • Facebook
  • social-01-512
  • Twitter
  • LinkedIn
  • YouTube