• globalnewsnetin

आचार्यश्री महाप्रज्ञ जी को श्रद्धांजली


चंडीगढ़ (अदिति) हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा की अध्यक्षता में हुई बैठक में हरियाणा कांग्रेस विधायक दल ने आचार्य श्री महाप्रज्ञ जी के जन्म शताब्दी वर्ष के अवसर पर श्रद्धांजली अर्पित की। श्रद्धांजली सन्देश में हुड्डा ने बताया कि वे वास्तव में महान संत थे और उन्हें भी अनेक बार उनका सानिध्य मिला। उन्होंने 8 दशकों के तप के द्वारा राग, अनुराग, क्रोध व घृणा पर विजय प्राप्त की। वे शांति व आध्यात्मिक समृद्धि के दूत थे। वे एक व्यक्ति नहीं, बल्कि महान सांस्कृतिक संस्था थे। उनका तप तीन विशेषताओं पर आधारित था - पदयात्रा, प्राप्ति और अर्पण। वे एकाग्रतापूर्वक पदयात्रा करते थे। प्रत्येक व्यक्ति व प्रकृति से ज्ञान प्राप्त करते थे। उन्होंने आत्मज्ञान को प्राथमिकता दी और सभी को ज्ञान प्रकाश दिया।

नेता प्रतिपक्ष एवं पूर्व मुख्य मंत्री ने बताया कि अणुव्रत आंदोलन में उनका अहम योगदान रहा तथा उनकी अंहिसा यात्रा लम्बे समय तक याद की जाएगी। उनका महान व्यक्तित्व व उनके अहिंसा के सिद्धांत, समाज को निरंतर प्ररेणा देते रहेंगे। आचार्य श्री महाप्रज्ञ जी की शिक्षाओं तथा उनके द्वारा बताये गये जीवन मूल्यों को अपनाना ही उनके प्रति सच्ची श्रद्धांजली होगी।

 Global Newsletter

  • Facebook
  • social-01-512
  • Twitter
  • LinkedIn
  • YouTube