top of page
  • globalnewsnetin

आयुर्वेद के क्षेत्र में भारत के विश्व गुरु बनने का रोडमैप पर हुआ मंथन नीमा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी


चंडीगढ़: चंडीगढ़ नीमा द्वारा आयोजित नेशनल इंटेग्रेटेड मेडिकल एसोसिएशन की सेंटर एग्जीक्यूटिव मीट 2023 सेक्टर 35 के लोकल बॉडी बिल्डिंग में आयोजित हुई । इसमें देश ,विदेश से लगभग 300 आयुर्वेद विशेषज्ञ शामिल हुए ।हर दिन हर घर आयुर्वेद पर मंथन करने को हुई इस विशेष मीट में डॉ राकेश शर्मा नेशनल कमिशन फॉर इंडियन सिस्टम ऑफ़ मेडिसिन के प्रेसिडेंट मुख्य अतिथि रहे । डॉक्टर बी एल मेहरा, गुरु रविदास यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर राहुल गुप्ता , श्री कृष्ण आयुष यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर डॉक्टर के एस धीमान , डॉक्टर संजीव गोयल रजिस्ट्रार बोर्ड आयुर्वैदिक युनानी सिस्टम ऑफ़ मेडिसिन विशिष्ट मेहमान रहे ।

डॉ संजीव गोयल ने कहा, “हर दिन हर घर आयुर्वेद” का संदेश प्रत्‍येक भारतीय के जीवन का अंग होना चाहिए। उन्होंने जोर देकर कहा कि प्रकृति का अस्तित्‍व बचने पर ही हम मनुष्य जीवित रह सकते हैं। हमें इसे गंभीरता से लेना होगा; यही प्रकृति के प्रति मानव समाज का सबसे बड़ा कर्तव्य होना चाहिए। पारंपरिक चिकित्सा अपने आप में विज्ञान है। आइए प्रकृति में निहित शक्ति, समृद्धि और संभावनाओं को समझें और आगे बढ़ें।”


वैद्य राकेश शर्मा ने कहा कि “वर्ष 2014 में, आयुष विनिर्माण उद्योग केवल 3 बिलियन डॉलर का था। यह पिछले 9 वर्षों में 8 गुना बढ़कर 3 बिलियन डॉलर से 24 बिलियन डॉलर का हो गया है। माननीय आयुष मंत्री के नेतृत्व में हमने 2047 तक आयुष क्षेत्र में 50 गुना वृद्धि करने का संकल्‍प लिया है और हमें विश्वास है कि इस लक्ष्‍य को हासिल किया जा सकता है।”

आयोजक नीमा चंडीगढ़ की टीम से डॉ शैलेंद्र भारद्वाज डॉ गीता जोशी डॉ सुखजिंदर योगी डॉक्टर विनोद वरवाल , डॉ मीनू गांधी ,डॉ विवेकआहूजा मौजूद रहे ।


Comments


bottom of page