• globalnewsnetin

कांग्रेस में बागी सुरों से हरियाणा में भी हड़कंप


सैलजा ने दी नसीहत-एकजुटता में ही भलाई

चंडीगढ़(अदिति) कांग्रेस में बागी सुरों से हरियाणा में भी हड़कंप मचा हुआ है। पूर्व मुख्यमंत्री भूपिंदर सिंह हुड्डा को छोड़ कर सभी नेता इस बात को लेकर चिंतित हैं कि कहीं यहाँ भी कहीं बात बिगड़ न जाये। वैसे ही यहाँ कांग्रेस कमज़ोर पड़ी हुई है और कांग्रेस को डर है कि कहीं इनेलो इस का लाभ ना उठा ले । फ़िलहाल कुमारी सैलजा ने नसीहत दी है कि एकजुटता में ही भलाई है।

सोनिया गांधी की नजदीकी मानी जाती हरियाणा कांग्रेस की अध्यक्ष कुमारी सैलजा ने पिछले कुछ दिनों से चल रहे घटनाक्रम के चलते वरिष्ठ नेता कुलदीप बिश्‍नोई व बागी तेवर वाले नेताओं को नसीहत दी है। उन्‍होंने कांग्रेस छोड़कर चले गए अथवा कांग्रेस में रहकर पार्टी नेतृत्व को चुनौती दे रहे नेताओं पर निशाना साधा है। सैलजा ने कहा कि किसी भी नेता को यह नहीं भूलना चाहिए कि उनकी मौजूदा राजनीतिक हैसियत कांग्रेस की देन है। कांग्रेस यदि उनको मौका नहीं देती तो ऐसे नेताओं का न तो नाम होता और न ही दूसरे दलों या जनता में पूछ होती।

यहां कांग्रेस कार्यालय में पहुंची कुमारी सैलजा ने इशारों ही इशारों में कांग्रेस हाईकमान को चुनौती देने वाले नेताओं की पोल खोलकर रख दी। सैलजा ने कहा कि भाजपा हाईकमान हर उस राज्य में राजनीतिक खेल खेलना चाह रहा है, जहां कांग्रेस की सरकार है। कांग्रेस नेताओं को भाजपा की इस चाल को समझना होगा। छोटे लालच में आकर इन कांग्रेस नेताओं को भाजपा के हाथों की कठपुतली नहीं बनना चाहिए।

उन्होंने कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया, सचिन पायलट और कुलदीप बिश्नोई ही नहीं बल्कि कांग्रेस हाईकमान को आंखें दिखाने वाले हर नेता के लिए मेरी यही सलाह है कि उनके लिए पार्टी सर्वोपरि होनी चाहिए। सोनीपत जिले की बरोदा सीट पर उपचुनाव के संदर्भ में सैलजा ने कहा कि हमारे पास बड़े-बड़े सेनापतियों और सैनिकों की कमी नहीं है। यहां किसी एक उम्मीदवार के नाम पर सर्वसम्मति बनाने में कोई दिक्कत नहीं आएगी। कांग्रेस पूरी मजबूती और एकजुटता के साथ बरोदा का रण जीतने जा रही है।

कुमारी सैलजा ने कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार पूंजीपतियों के इशारे पर चल रही है। पहले एन-95 मास्क को उपयोगी और जरूरी बताया गया। अब इसे गैर उपयोगी बता रहे हैं, क्योंकि किसी दूसरी कंपनी को प्रमोट करना होगा। प्रदेश में लॉकडाउन के दौरान 600 कंपनियों के साथ हुई बातचीत संबंधी दुष्यंत चौटाला के दावे पर सवाल उठाते हुए सैलजा ने कहा कि सरकार इस बात को सार्वजनिक करे कि किस कंपनी के किसी अधिकारी के साथ किसने कब और किस मुद्दे पर बातचीत की तथा उसका रिजल्ट क्या निकला। उन्होंने आरोप लगाया कि यह सब हवाई दावे हैं। कोरोना काल में सरकार घर से बाहर नहीं निकली और लोगों को उनके हाल पर छोड़ दिया। समाजसेवी संगठनों और कांग्रेस ने यदि लोगों की मदद नहीं की होती तो आज काफी परेशानी झेल रहे होते। कुमारी सैलजा ने एचटेट पास उम्मीदवारों को राहत देने के लिए हरियाणा सरकार से एचटेट की वैधता बढ़ाए जाने और जेबीटी भर्ती निकालने की मांग की है। प्राइवेट सेक्टर में स्थानीय युवाओं को 75 प्रतिशत आरक्षण को सैलजा ने ढोंग बताया है। उन्होंने रजिस्ट्री घोटाले पर भी गठबंधन सरकार पर सवाल उठाए हैं।

 Global Newsletter

  • Facebook
  • social-01-512
  • Twitter
  • LinkedIn
  • YouTube