• globalnewsnetin

कैप्टन अभिमन्यु ने अध्यक्ष बनने से किया इंकार, भाजपा फिर कर रही मथापच्ची


चंडीगढ़ (गुरप्रीत) हरियाणा के पूर्व वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु का नाम भारतीय जनता पार्टी की हरियाणा इकाई की लिए घोषित होने लगा तो उन्होंने अपने नाम का किनारा कर हाई कमान में अहम जिम्मेदारी निभाने की इच्छा जताई । अब भाजपा फिर मथापच्ची कर रही है किआखिर किस की हाथ में डोर पकड़ाई जाए। कैप्टन अभिमन्यु को मनाने का भी प्रयास हो रहा है। भाजपा की वर्चुअल रैली के बाद अब हरियाणा में पार्टी के नए अध्यक्ष की नियुक्ति का मुद्दा फिर से उठने लगा है।

वैसे तो इस पद के लिए कई नामों की चर्चा पहले से ही हो रही है परन्तु कुछ नाम स्पष्ट तौर पर सामने आये। चाहे जो भी हो परन्तु मौजूदा प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला जाना तह है और उन की जगह हरियाणा में नया अध्यक्ष बनाया जाना है। इसके लिए पार्टी ने संगठन से जुड़े अनुभवी नेताओं से राज्यस्तरीय नेताओं का फीडबैक भी ले लिया है।

हरियाणा में सत्तारूढ़ दल का नया अध्यक्ष कौन होगा, इस पर भाजपा ही नहीं बल्कि विपक्षी दलों के नेताओं की भी नजर है। फिलहाल पूर्व वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु, प्रदेश महामंत्री संदीप जोशी, पानीपत ग्रामीण के विधायक महीपाल ढांडा, हिसार के विधायक कमल गुप्ता और पलवल के विधायक दीपक मंगला के नाम चल रहे हैं।इन सबके बीच भाजपा हाईकमान जातीय और क्षेत्रीय समीकरण भी देख रहा है। यह भी संभव है कि हरियाणा को नया प्रदेश अध्यक्ष अब राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की राष्ट्रीय टीम बनने के साथ मिले और हरियाणा के कुछ नेता नड्डा की टीम में समायोजित कर लिए जाएं।

अध्यक्ष पद पर नियुक्ति के लिए दिल्ली और चंडीगढ़ के नेताओं के बीच किसी एक नाम पर सहमति बनाने में कई अड़चनें बताई जा रही हैं। दिल्ली के नेता चाहते हैं कि राज्य में ऐसे नेता को कमान दी जाए जो मनोहर सरकार की छाया से निकलकर खुद संगठन का काम कर सके। दूसरी तरफ प्रदेश के कुछ नेता चाहते हैं कि सरकार और संगठन के बीच बेहतर समन्वय होना चाहिए। पिछले पांच साल बेहतर समन्वय ने ही भाजपा को दोबारा सत्ता लाने का मार्ग प्रशस्त किया। दिल्ली के नेता कैप्टन अभिमन्यु को युवा व तेजतर्रार मानते हुए अध्यक्ष सौंपना चाहते हैं तो राज्य स्तरीय नेतृत्व की तरफ से यह सुझाव दिया जा रहा है कि यदि पराजित नेता को अध्यक्ष बनाने से परहेज नहीं है तो फिर मौजूदा अध्यक्ष सुभाष बराला ही बेहतर हैं।

अब यह कयास लगाए जा रहे हैं कि किसी युवा नेता पर सहमति बनाई जाएगी। हाईकमान युवा नेता को अध्यक्ष पद सौंपता है तो कैप्टन और पूर्व कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की टीम में शामिल हो सकते हैं।

 Global Newsletter

  • Facebook
  • social-01-512
  • Twitter
  • LinkedIn
  • YouTube