• globalnewsnetin

कैप्टन अमरिन्दर सिंह द्वारा कोरोना मोबाइल टेस्टिंग क्लीनिक और एंबुलेंस को हरी झंडी


रोज़ाना 1000 से अधिक नमूने लेने के सामथ्र्य वाली ऐंबूलैस के द्वारा दूरगामी और ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को दी जाएंगी जांच सहूलते

चंडीगढ़,(गुरप्रीत): पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह की तरफ से शुक्रवार को कोविड टेस्टिंग के लिए अति आधुनिक सहूलतों से लैस कोरोना टेस्टिंग मोबाइल क्लीनिक और ऐबूलैंस को हरी झंडी दी गई। यह ऐबूलैंस सन फाऊडेशन के चेयरमैन और विश्व पंजाबी संस्था के अंतरराष्ट्रीय प्रधान विक्रमजीत सिंह साहनी की तरफ से दान की।

मुख्यमंत्री को मोबाइल क्लीनिक की प्रमुख विशेषताओं संबंधी अवगत करवाते हुये विकरमजीत सिंह साहनी ने बताया कि मोबाइल क्लीनिक में नाक और मुँह के द्वारा (नासोफैरनीजल और ओरोफैरैंजल सवैब) टैस्टों वाली बिना संपर्क वाली थर्मल टेस्टिंग होती है। पूरी तरह एयर कंडीशनड इस मोबाइल यूनिट में गंभीर मरीज़ों को ले जाने के लिए एंबुलेंस ज़ोन भी है। इसमें मिशन फतेह पंजाब की प्राप्ति के लिए ख़ास तौर पर ग्रामीण और अर्ध -शहरी क्षेत्रों में मरीज़ों के घरों से रोज़मर्रा के 1000 से अधिक नमूने लेने का सामथ्र्य है।

मुख्यमंत्री ने बताया कि यह मोबाइल टेस्टिंग आज के समय की बड़ी ज़रूरत है और यह दूरगामी इलाकों को कवर करेगी जिसके साथ इन इलाकों में बसते लोगों को टेस्टिंग सहूलतें मुहैया करवाना यकीनी बनाया जा सकेगा जो कोविड -19 महामारी की कड़ी तोडऩे के लिए कोविड के पॉजिटिव मरीज़ों का पता लगाने के लिए बहुत ज़रूरी है।

जि़क्रयोग्य है कि इस समय राज्य सरकार का प्रति दिन 24000 टैस्ट करवाने का सामथ्र्य है और अगले हफ़्ते तक 30,000 टैस्टों का लक्ष्य निश्चित किया गया है।

इस मौके पर स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू, स्वासथ्य विभाग के प्रमुख सचिव हुस्न लाल और मुख्यमंत्री के विशेष प्रमुख सचिव गुरकीरत क्रिपाल सिंह भी उपस्थित थे।

 Global Newsletter

  • Facebook
  • social-01-512
  • Twitter
  • LinkedIn
  • YouTube