• globalnewsnetin

कैप्‍टन की कांग्रेस सरकार तथा आम आदमी पार्टी द्वारा किसानों को गुमराह करने से बाज आये - चुग


कैप्‍टन किसान सशक्तिकरण विधेयकों पर पंजाब में कहीं पर भी खुली बहस कर लें – चुग

एमएसपी हर हाल में जारी रहेगी, मंडीकरण भी यथावत रहेगा : तरूण चुग

कैप्‍टन सरकार 90 हजार करोड़ कि किसानी कर्जा माफी की असफलता से ध्‍यान हटाने हेतु झूठ पर झूठ बोल रही है – तरूण चुग

चंडीगढ़ (गुरप्रीत )- भारतीय जनता पार्टी के राष्‍ट्रीय मंत्री  तरूण चुग ने आज होशियारपुर में पत्रकार वार्ता में केंद्र द्वारा कृषि सम्बन्धी लाये गए तीनो कानूनों को किसानों के हित में बताते हुए कहा की इससे किसानों को उनकी उपज का सही दाम मिलेगा तथा उनकी आय बढ़ेगी  | 

चुघ ने पंजाब में कैप्टन सरकार  व उनकी बी टीम आम आदमी पार्टी के अनैतिक गठजोड़ की मिलीभगत से किसानों को बहला फुसला क्र तथाकथित ऍम एस पी को हटाए जाने की अफवाह उड़ने का कुत्सित , घिनौना व् राजनीती से प्रेरित हो कर किसान विरोधी चहरे  से अपना नापाक मुखौटा उतर दिया है | 

चुघ ने  कांग्रेस व आप  के नेताओं द्वारा भ्रामक व गुमराहपूर्ण ब्यान देने के मामले पर दोनों पार्टियों को आड़े हाथों लेते हुए उन्होंने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार द्वारा पारित किये गए तीनों कानूनों में किसानों की फसल के न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) में किसी भी तरह के बदलाव की कोई बात नहीं कही गई है I उन्होंने कहा कि स्वामीनाथन कमीशन की रिपोर्ट आने के बाद डॉ. मनमोहन सिंह के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार 10 वर्ष तक सत्ता में रही, लेकिन कांग्रेस ने इसे लागू नहीं किया I मोदी सरकार ने एम.एस.पी. को लागत मूल्य से जोड़ कर स्वामीनाथन रिपोर्ट की महत्वपूर्ण सिफारिश को लागू किया है I 

चुघ ने कहा की भारतीय जनता पार्टी एमएसपी के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध हैं व एमएसपी पर होने वाली खरीद बंद नहीं होगी। पर पंजाब की कैप्‍टन अमरेंद्र सिंह जी की कांग्रेस सरकार अपने चुनावी वायदे के 90 हजार करोड़ रुपए के किसानी कर्जामाफी की असफलता से ध्‍यान हटाने हेतु गुमराहपूर्ण व झूठ पर झूठ वाले ब्‍यान जारी कर रही है, जबकि जग जाहिर है कि कांग्रेस ने कभी 70 वर्ष से किसान की चिंता नहीं की और इसी कारण आज देश का किसान कर्जदार है। कैप्‍टन अमरेंदर सिंह इन विधेयकों के खिलाफ एक शब्‍द बताएं, जहां किसानों के विरोध में कुछ लिखा हो और कैप्‍टन साहब जहां चाहे, मैं उनसे इन विधेयकों पर खुली बहस के लिए तैयार हूं।

चुघ ने पंजाब की कैप्टन सरकार को किसान विरोधी बताते हुये कहा की “मोदी सरकार” के किसान हितैषी अध्यादेश से जहां पंजाब के किसान गेंहूं व चावल उत्पादन करने की परम्परागत खेती की एमएसपी व एमएसपी पर खरीद की पूर्ण सुरक्षा व उसके  बाद बाहर आकर अन्य जीवनोंपयोगी फसलों को तैयार करने , उन्हें खुले बाजार में बेचने तथा बिचोलियो के मकड़जाल से बाहर आकर अपनी पैदावार का सही मुल्य प्राप्त करके अपनी आमदन बढ़ा पाने में सक्षम होगें।

चुघ ने कैप्टन सरकार को कटघरे में खड़ा करते हुए कहा की प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा लाये गए तीनों कानून के ज्यादातर प्रावधानों को कैप्टेन सरकार 2017 में अपने मंडी एक्ट में संशोधन करके पहले से ही पंजाब में लागू कर चुकी है इसलिए अब इस पर राजनीती न करें तथा किसानों को गुमराह न करें। 

 Global Newsletter

  • Facebook
  • social-01-512
  • Twitter
  • LinkedIn
  • YouTube