• globalnewsnetin

कोरोना ने विधायकों के स्टडी टूर कार्यक्रमों को मारा डंक


चंडीगढ़ (गुरप्रीत) कोरोना ने पूरे देश सहित पंजाब और हरियाणा सरकारों को सख्त फैसले लेने पर विवश तो कर रखा है परन्तु अब विधायकों के स्टडी टूर कार्यक्रमों को भी डंक मारा है। वैसे तो कोरोना के डर के मारे नेता लोग कहीं जाना नहीं चाहते परन्तु इन की उम्र को ध्यान में रख विधानसभा अध्यक्ष भी कोई रिस्क नहीं लेना चाहते। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर भी कुछ हद्द तक खर्चों पर कैंची चलना चाहते हैं। शायद इसी वजह से हरियाणा के सभी विधायकों को एडजेस्ट कर बनाई गई विधानसभा कमेटियों के स्टडी टूर पर रोक लगा दी गई है।

विधानसभा अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता ने यह फैसला लिया है कि कोरोना महामारी के चलते इस वर्ष विधायकों के स्टडी टूर कार्यक्रमों को टाल दिया गया है। । उल्लेखनीय है कि प्र्तेक वर्ष विधानसभा कमेटियां स्टडी टूर के लिए अलग-अलग राज्यों के दौरे पर जाती हैं और हर बार प्रश्न उठते हैं ।

देश भर में कोरोना महामारी पर अभी तक उम्मीद के मुताबिक नियंत्रण नहीं हो पाने की वजह से स्टडी टूर स्थगित किए गए हैं। हरियाणा विधानसभा में 90 विधायक हैं। मुख्यमंत्री मनोहर लाल और उनकी कैबिनेट के मंत्रियों तथा स्पीकर को छोड़कर बाकी विधायकों को विधानसभा की विभिन्न कमेटियों में शामिल किया गया है। विधानसभा की सबसे अहम और पावरफुल कमेटी विशेषाधिकार हनन (प्रीविलेज) कमेटी है। साथ ही विधानसभा की लोक लेखा कमेटी भी काफी पावरफुल है।

विधानसभा की इन कमेटियों को हालांकि किसी भी मसले में अधिकारियों की राय जानने के लिए उन्हें तलब करने का अधिकार है, लेकिन पिछले सालों की हिस्ट्री बताती है कि ऐसा कम ही होता आया है। इस बार पहली बार विधानसभा की कमेटियां अधिकारियों को विभिन्न मसलों पर उनकी जवाबदेही के लिए तलब कर रही हैं। विधानसभा की प्रीविलेज कमेटी ने शुक्रवार को गोहाना के कांग्रेस विधायक जगबीर मलिक की एक शिकायत के आधार पर सोनीपत की तत्कालीन डीएफएससी मनीषा को तलब कर रखा है। मलिक ने स्पीकर के सामने शिकायत की थी कि अधिकारी उनका फोन नहीं उठाती और न ही जवाब देती है। हालांकि मनीषा ने जवाब दे दिया था, लेकिन विधायक उससे संतुष्ट नहीं हैं, जिस कारण यह मामला विधानसभा की प्रीविलेज कमेटी को सौंपा गया है। पिछली सरकार में विधानसभा की प्रीविलेज कमेटी के पास छह विधायकों के खिलाफ मामले चलाए गए थे, लेकिन किसी में भी कोई फैसला नहीं हो पाया था। पूरे देश में कोरोना महामारी का संकट है। हरियाणा विधानसभा की सभी कमेटियां बन चुकी हैं। उन्हें कार्य आवंटित हो चुका है। सभी विधायक इन कमेटियों की बैठक में पूरी रुचि के साथ भागीदारी कर रहे हैं। कोरोना की वजह से विधानसभा की कमेटियों के स्टडी टूर पर रोक लगा दी गई है। यदि किसी कमेटी को किसी दूसरे राज्य की विधानसभा या लोकसभा में कार्य है अथवा कोई जानकारी लेनी है तो वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिये काम किए जाएंगे।

 Global Newsletter

  • Facebook
  • social-01-512
  • Twitter
  • LinkedIn
  • YouTube