• globalnewsnetin

कोरोना संबधी निर्देशों को लेकर विभिन्न पार्टियों के लिए अलग अलग कानून क्यों?


विपक्ष की आवाज दबाने के लिए कांग्रेस सरकार तुच्छ हरकतों पर उतर  आई हैः परमबंस सिंह रोमाणा

सरकार की धक्केशाही के खिलाफ डटकर आवाज बुलंद करेंगे, केसों की कोई परवाह नही

चंडीगढ़ (गुरप्रीत ): यूथ अकाली दल के अध्यक्ष सरदार  परमबंस सिंह रोमाणा ने कोरोना दिशा निर्देशों को लेकर मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह से सवाल किया है कि राज्य में अलग अलग राजनीतिक पार्टियों को लेकर दोहरे मापदंड क्यों अपनाए जा रहे हैं तथाा दो कानून क्यों लागू किए जा रहे हैं?

यहां जारी एक प्रेस बयान में सरदार परमबंस सिंह रोमाणा ने कहा कि यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है कि कांग्रेस सरकार के समय कोरोना को लेकर दिशा निर्देशों की आड़ में विपक्ष की आवाज को दबाने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होने कहा कि सरकार द्वारा अकाली दल के मामले में अलग मापदंड अपनाए जा रहे हैं तथा कांग्रेस तथा उसके सहयोगी आप तथा अन्य पार्टियों के मामले में अलग मापदंड अपनाए जा रहे हैं।

विभिन्न मीडिया रिपोर्टों का हवाला देते हुए सरदार रोमाणा ने बताया कि कल फरीदकोट में मार्केट कमेटी के नए चेयरमैन का पद संभालने का समागम रखा गया जिसमें मुख्यमंत्री के सलाहकार कुशलदीप सिंह ढ़िल्लों भी शामिल हुए। यहां कोरोना के निर्देशों की जमकर धज्जियां उड़ाई गई पर इनके खिलाफ कोई कार्रवाई नही की गई। उन्होने बताया कि इसी तरह गिदड़बाहा निर्वाचन क्षेत्र में कांग्रेसी विधायक राजा वड़िंग द्वारा प्रोग्राम किए गए तथा नियमों का जमकर  उल्लंघन किया गया, पर कोई कार्रवाई नही की गई।

सरदार रोमाणा ने बताया कि कांग्रेस की सहयोगी पार्टियां, आम आदमी  पार्टी तथा नए बने शिरोमणी अकाली दल डेमोक्रेटिक द्वारा राज्य भर में प्रोग्राम किए जा रहे हैं पर किसी भी मामले में कोई कार्रवाई नही की गई पर जब शिरोमणी अकाली दल ने लोगों की आवाज बुलंद की तथा अवैध फीसों तथा अन्य मामलों में रोष प्रदर्शन किया तो अकाली नेताओं पर केस दर्ज कर दिए गए।

यूथ अकाली दल के अध्यक्ष ने कहा कि शिरोमणी अकाली दल न कभी केसों से पहले डरा है तथा न ही अब डरेगा। उन्होने कहा कि लोगों की आवाज बुलंद करना हमारी जिम्मेदारी है तथा हम पूरी जिम्मेदारी से निभाएंगे। उन्होने कहा कि राज्य में जहां कहीं भी किसी नौजवान, छात्र किसान, गरीब, मजदूर यां किसी अन्य वर्ग के साथ धक्केशाही हुई तो यूथ अकाली दल सबसे पहले जरूरतमंदों के पास पहुंचेगा तथा उनके साथ हो रहे किसी भी अन्याय के खिलाफ आवाज बुलंद करेगा। उन्होने कहा कि यदि कांग्रेस सरकार कोरोना  नियमों की आड़ में विपक्ष तथा लोगों की आवाज दबाना चाहती है तो वह भूल जाए।

सरदार रोमाणा ने कहा कि हम नियमों का पालन करते हुए लोगों की आवाज को बुलंद करेंगे। उन्होने कहा कि शिरोमणी अकाली दल के अध्यक्ष सरदार सुखबीर सिंह बादल द्वारा स्पष्ट निर्देश हैं कि कोरोना मामले में केंद्र तथा राज्य सरकार द्वारा जारी हिदायतों का पालन सुनिश्चित किया जाए पर ऐसा करते हुए इस बात का ध्यान भी रखा जाए कि किसी के साथ कोई जुल्म, धक्केशाही यां अन्याय न हो।

सरदार रोमाणा ने मुख्यमंत्री से कहा कि वह राज्य के लोगों को बताएं कि राज्य में विभिन्न राजनीतिक पार्टियों के मामले में दो कानून क्यों हैं? उन्होने सरकार को सलाह दी कि ऐसी धक्केशाही से परहेज किया जाए क्योंकि धक्केशाही से वह लोगों के मसले उठाने के प्रयासों को कुचल नही सकती।

 Global Newsletter

  • Facebook
  • social-01-512
  • Twitter
  • LinkedIn
  • YouTube