top of page
  • globalnewsnetin

गाय के दूध के सेवन से बुद्धि व बल में वृद्धि होती है : गोपाल मणि जी


चण्डीगढ़ : गोपाला गोलोक धाम, कैम्बाला गौशाला, चण्डीगढ़ द्वारा धेनुमानस गो कथा का अयोजन कथा व्यास गौ गंगा कृपाकांक्षी पूज्य श्री गोपाल मणि जी महाराज के द्वारा 12 सितम्बर तक दोपहर 2 बजे से सांय 6 बजे तक गौशाला परिसर में हो रही हैं। कथा व्यास गौ-गंगा कृपाकांक्षी पूज्य श्री गोपाल मणि जी द्वारा गौकथा के तीसरे दिन कथा व्यास गोपाल मणि महाराज ने गौ महिमा का वर्णन करते हुए कहा कि गाय की सेवा करने से पुण्य प्राप्त कर भगवान के दर्शन होते हैं और सनातन धर्म की रक्षा भी होती है। उन्होंने कहा कि गाय के दूध के सेवन से बुद्धि व बल में वृद्धि होती है।

कथा व्यास ने कहा कि वृत्रासुर राक्षस का वध करने के लिए दधीचि की हड्डियों में भी बल गाय के दूध का सेवन करने से ही आया था, क्योंकि पौराणिक काल में गुरुकुल में गौ-सेवा करना अनिवार्य होता था। कथा व्यास ने कहा कि सभी को गाय पाल कर पुण्य कमाना चाहिए और जो लोग नहीं पाल सकते, उन्हें गाय लेकर दूसरों को पालने के लिए दे देनी चाहिए। गाय के दूध, मूत्र और गोबर से रोजगार के भी अनेक साधन उपलब्ध होते हैं जिससे गौ सेवकों की आर्थिक स्थिति भी सुदृढ़ हो जाती है। इस अवसर पर आचार्य सीता शरण महाराज जी ने गौ-माता के भजनों द्वारा गौ भक्तों को गौमाता की महिमा का गुणगान किया। कथा उपरान्त आरती कर प्रसाद भंडारा वितरित किया गया। कथा में नगर भाजपा के पूर्व अध्यक्ष एवं सह प्रभारी बीजेपी हिमाचल प्रदेश संजय टंडन, हीरा नेगी, पूर्व डिप्टी मेयर, हरमेश कुमार पूर्व सरपंच, गुरमीत सिंह मंडल अध्यक्ष, सोनू पूर्व सरपंच आदि ने गौ आरती में भाग लिया उपस्थित रहे।

Comments


bottom of page