top of page
  • globalnewsnetin

जिला परिषद चुनाव में जनता ने सत्तारूढ़ भाजपा जजपा को पूरी तरह नकारा - दीपेंद्र हुड्डा


सांसद दीपेन्द्र हुड्डा ने कहा कि जिला परिषद चुनाव में जनता ने सत्तारूढ़ भाजपा-जजपा को बड़े बहुमत से नकार दिया है। इतना ही नहीं, 87% हरियाणवियों ने निर्दलीय व कांग्रेस विचारधारा के उम्मीदवारों को वोट दिया। BJP 5% वोट, INLD व AAP को 3% वोट, BSP 2%वोट मिले।411 में से 22 पार्षद जीतने वाली भाजपा-जजपा को अब एक दिन भी सत्ता में रहने का कोई नैतिक अधिकार नहीं है। उन्होंने आगे कहा कि आदमपुर उपचुनाव की तरह पंचायत चुनाव में भी इनेलो और आम आदमी पार्टी का सफाया हो गया। नतीजों से स्पष्ट है कि इनेलो और आम आदमी पार्टी का हरियाणा की राजनीति में कोई भविष्य नहीं है। दीपेन्द्र हुड्डा ने कहा कि प्रदेश में 411 जिला पार्षद सीटों पर 22 बीजेपी के 14 आम आदमी पार्टी के, इनेलो के 13 और 350 से ज्यादा निर्दलीय चुनाव जीते हैं। इस चुनाव मेंबीजेपी को 435782 वोट मिले, मतों का प्रतिशत 5.1% हैं, जेजेपी को कुल 1498 वोट मिले जो 0% है।उन्होंने बताया कि पहले तो भाजपा को पूरे प्रदेश में हर सीट पर उनकी पार्टी के सिम्बल पर चुनाव लड़ने के लिए उम्मीदवार ही नहीं मिला। भरपूर कोशिश करने के बाद 411 सीटों में से भाजपा को केवल 102, आम आदमी पार्टी को 114 सीटों पर ही उम्मीदवार मिल पाये और उनमें से भी अधिकांश चुनाव हार गये। भाजपा-जजपा को मिलाकर लगभग 5.1% और आम आदमी पार्टी और इनेलो को लगभग 3 प्रतिशत सीटों पर ही जीत मिल पाई। बीजेपी, जेजेपी, इनेलो, आम आदमी पार्टी और बीएसपी मिलकर भी 13 फीसदी पार्षद ही जिता पाई, लगभग 87 फीसदी मत आजाद उम्मीदवारों को मिले। दीपेन्द्र हुड्डा ने चुनाव नतीजों के लिये हरियाणा के मतदाताओं का धन्यवाद किया और विजयी पार्षदों को शुभकामनाएं दी।

0 comments

Comentarios


bottom of page