top of page
  • globalnewsnetin

जी-20 सम्मेलन : समृद्ध सांस्कृतिक विरासत व कार्यक्रमों का होगा भव्य प्रदर्शन


जी-20 की गुरुग्राम में एक से तीन मार्च को आयोजित होनी वाली एंटी करप्शन वर्किंग ग्रुप की बैठक के दौरान हरियाणवी कला एवं संस्कृति, खान-पान, जनकल्याणकारी कार्यक्रम व ऐतिहासिक महत्व से जुड़ी धरोहरों का भव्य प्रदर्शन किया जाएगा ताकि भारत की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत व नवाचार आधारित कार्यक्रमों का संदेश दुनिया भर में पहुंच सके।

सूचना, लोक संपर्क, भाषा एवं संस्कृति विभाग तथा विदेश समन्वय विभाग, हरियाणा के प्रधान सचिव अनुराग अग्रवाल ने गुरुग्राम में शुक्रवार को आयोजन की तैयारियों को लेकर अधिकारियों की बैठक ली।

प्रधान सचिव ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि जी-20 की गुरुग्राम में होने वाली बैठकों के दौरान प्रदेश की ब्रांडिंग पर विशेष फोकस होना चाहिए। बैठक में शामिल होने वाले प्रतिनिधियों के नई दिल्ली स्थित अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से लेकर गुरुग्राम में मुख्य आयोजन स्थल पर आगमन तक हरियाणवी सांस्कृतिक दल अपनी कला का प्रदर्शन करेगा। मुख्य आयोजन स्थल पर हरियाणा की गणतंत्र दिवस पर प्रस्तुत की गई झांकी भी रखी जाएगी। बैठक के दौरान हरियाणवी पगड़ी, नगाड़ा व अन्य परंपरागत वाद्य यंत्रों से भी मेहमानों का स्वागत किया जाएगा। विदेश से आने वाले मेहमानों के लिए प्रदेश सरकार की ओर से लायजन ऑफिसर्स भी नियुक्त किए जाएंगे। बैठक में विदेश मंत्रालय के जी-20 सचिवालय से जुड़े अधिकारी भी शामिल हुए और उन्होंने आवश्यक प्रोटोकॉल के बारे में अधिकारियों को अवगत कराया।

उन्होंने कहा कि जी-20 एंटी करप्शन वर्किंग ग्रुप की बैठक के दौरान मेहमानों के लिए अंतरराष्ट्रीय मिलेट ईयर के चलते मोटे अनाज से तैयार होने वाले व्यंजन भी तैयार कराए जाएंगे। मेहमानों के लिए तैयार होने वाले मेन्यू कार्ड में भारतीय परंपरागत खानपान के साथ-साथ हरियाणवी व्यंजनों को भी प्रमुखता दी जानी चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि गुरुग्राम में एंटी करप्शन वर्किंग ग्रुप की बैठक होगी। ऐसे में हरियाणा सरकार की परिवार पहचान पत्र व आईटी बेस्ड वेलफेयर स्कीम्स की जानकारी को भी प्रदर्शित किया जाएगा। गुरुग्राम के डीसी निशांत कुमार यादव ने प्रधान सचिव को जिला प्रशासन की तैयारियों के बारे में भी जानकारी दी।

इस अवसर पर विदेश समन्वय विभाग के महानिदेशक एवं सचिव अनंत प्रकाश पांडेय, पलवल की डीसी नेहा सिंह, सूचना, लोक संपर्क, भाषा एवं संस्कृति विभाग के अतिरिक्त निदेशक डा. कुलदीप सैनी, संयुक्त निदेशक श्री आरएस सांगवान सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

0 comments

Comments


bottom of page