• globalnewsnetin

पैरा एशियन खेल के काँस्य पदक विजेताओं को 1.5 करोड़


पावर लिफ्टर परमजीत कुमार, शॉट-पुट्टर मुहम्मद यासिर और बैडमिंटन खिलाड़ी राज कुमार ने जकार्ता पैरा एशियाई खेल में जीते थे काँस्य पदक

खेल मंत्री ने कहा ; 1101 पदक विजेताओं को सितम्बर महीने तक करीब पाँच करोड़ रुपए नकद पुरस्कार के तौर पर दिए जाएंगे

चंडीगढ़, (गुरप्रीत): तीसरे पैरा एशियाई खेल के पदक विजेताओं को मान्यता देते और पदक विजेताओं को नकद राशि प्रदान करने की राज्य सरकार की वचनबद्धता को पूरा करते हुये पंजाब के खेल मंत्री राणा गुरमीत सिंह सोढी ने आज अपनी सरकारी रिहायश में पैरा एशियाई खेल में काँस्य पदक जीतने वाले तीन खिलाडिय़ों को 1.5 करोड़ रुपए की राशि के साथ सम्मानित किया।

जकार्ता (इंडोनेशिया) में 6 से 13 अक्तूबर, 2018 के दौरान हुई तीसरे पैरा एशियन खेल में काँस्य पदक जीतने वाले पावर लिफ्टर परमजीत कुमार (जालंधर), शॉट -पुट्टर मुहम्मद यासिर (संगरूर) और बैडमिंटन खिलाड़ी राज कुमार (पटियाला) को 50 -50 लाख रुपए की राशि प्रदान करते हुये राणा सोढी ने तीनों खिलाडिय़ों को अपने निर्धारित लक्ष्य को और मेहनत से पूरा करने और राज्य का नाम रौशन करने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने खिलाडिय़ों को वित्तीय सहायता, बुनियादी ढांचा और नौकरियों के मौके प्रदान करने समेत हर संभव सहायता देने का भरोसा दिया।

राणा सोढी ने बताया कि पदक विजेताओं को नकद पुरुस्कारों के साथ सम्मानित करने सम्बन्धी मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह की हिदायतों की पालना करते हुये खेल विभाग ने राज्य का नाम रौशन करने वाले खिलाडिय़ों के नकद पुरस्कारों के लिए प्राप्त आवेदनों की पड़ताल की और 1101 पदक विजेताओं की सूची बनाई है। इन खिलाडिय़ों को पंजाब सरकार सितम्बर महीने तक 4,85,46,100 रुपए की पुरस्कार राशि के साथ सम्मानित करेगी। उन्होंने कहा कि पुरस्कारों को विभिन्न पदक वर्ग और खेल के आधार पर दिया जायेगा क्योंकि कोविड -19 महामारी के दौरान बड़े जलसा नहीं बुलाऐ जा सकते।

खेल मंत्री ने कहा कि विभिन्न अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय खेल मुकाबलों में खिलाडिय़ों की तरफ से पदक जितना उनकी सख़्त मेहनत और दृढ़ता का नतीजा है और राज्य सरकार उनको खेल के प्रति समर्पण भावना के लिए शानदार नकद पुरस्कार प्रदान करने के लिए वचनबद्ध है। उन्होंने कहा कि राज्य के खिलाडिय़ों को खेल की अन्य सहूलतें प्रदान करने के लिए व्यापक खेल नीति -2018 को मार्च 2019 में नोटीफायी किया गया था, जिसके अंतर्गत नकद पुरस्कारों की राशि में चार गुणा विस्तार किया गया। उन्होंने कहा कि खेल विभाग ने नयी नीति के अनुसार एशियन और राष्ट्रमंडल खेल 2018 के विजेताओं को बढ़े हुए नकद पुरस्कार बाँटे हैं।

राणा सोढी ने कहा कि इससे पहले एशियन खेल के स्वर्ण, रजत और काँस्य के पदक विजेताओं के लिए नकद पुरस्कार क्रमवार 26 लाख रुपए, 16 लाख रुपए और 11 लाख रुपए दिए जाते थे, जिनको बढ़ा कर क्रमवार 1 करोड़, 75 लाख रुपए और 50 लाख रुपए किया गया है। इसी तरह राष्ट्रमंडल खेल के स्वर्ण, रजत और काँस्य पदक विजेताओं को नकद पुरस्कार 16 लाख रुपए, 11 लाख रुपए और 6 लाख रुपए था, जिसको बढ़ा कर 75 लाख, 50 लाख और 40 लाख रुपए कर दिया गया है।

खेल मंत्री ने कहा कि नयी खेल नीति के अंतर्गत पैरालम्पिकस, पैरा एशियन और पैरा राष्ट्रमंडल खेल के सभी पदक विजेताओं को ओलंपिक, एशियन और राष्ट्रमंडल खेल के पदक विजेता खिलाडिय़ों के बराबर नकद पुरस्कार दिए जा रहे हैं।

राणा सोढी ने आगे बताया कि राज्य सरकार ने सरकारी नौकरियों में खिलाडिय़ों के लिए अलग कोटा आरक्षित रखने को सैद्धांतिक तौर पर मंजूरी दी हुई है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार सभी सरकारी नौकरियों समेत बोर्डों, कोरर्पोशनों, सहकारी /वैधानिक संस्थाओं और स्थानीय अथॉरिटी में पंजाब के निवासी और ग्रेडिड खिलाडिय़ों, जो राष्ट्रीय स्तर पर राज्य की नुमायंदगी कर चुके हैं, के लिए तीन प्रतिशत कोटा जारी रखने के लिए भी वचनबद्ध है। इसके अलावा हाल ही में हुई कैबिनेट मीटिंग के दौरान खिलाडिय़ों को रोजग़ार के और मौके मुहैया करवाने का भी फ़ैसला लिया गया। इस फ़ैसले से राष्ट्रीय खेल /सीनियर राष्ट्रीय चैंपियनशिपें /मान्यता प्राप्त अंतरराष्ट्रीय टूर्नामैंट में स्वर्ण, रजत और काँस्य पदक विजेता खिलाड़ी सरकारी नौकरियों में ग्रुप -1 और ग्रुप -2 पर भर्ती के लिए योग्य होंगे।

इस मौके पर खेल और युवा सेवाएं विभाग के प्रमुख सचिव श्री हुसन लाल, डायरैक्टर श्री डी.पी.एस. खरबन्दा, डिप्टी डायरैक्टर श्री करतार सिंह और पैरालम्पिकस एसोसिएशन के श्री परमिन्दर सिंह फुल्लांवाल और श्री जसवंत ज़$फर भी उपस्थित थे।

 Global Newsletter

  • Facebook
  • social-01-512
  • Twitter
  • LinkedIn
  • YouTube