top of page
  • globalnewsnetin

बाघिन गौरी के दो शावकों में से एक की मौत


छतबीर (मोहाली): छतबीर चिड़ियाघर में बाघिन गौरी के दो जीवित शावकों में से एक की आठ घंटे से अधिक समय तक पशु चिकित्सा टीम के सर्वोत्तम प्रयासों के बावजूद, छतबीर चिड़ियाघर में पशु चिकित्सा अस्पताल की नवजात देखभाल इकाई में मृत्यु हो गई।

फील्ड डायरेक्टर कल्पना के. आईएफएस ने बताया कि बाघिन गौरी के दो जीवित शावकों में से एक, जो तीन दिन का था, रविवार को देखा गया कि उसकी मां ने धीरे-धीरे उसे अस्वीकार कर दिया है। इस शावक को प्रोटोकॉल के अनुसार मां से अलग कर दिया गया और छतबीड़ चिड़ियाघर के पशु चिकित्सालय की नवजात देखभाल इकाई में ले जाया गया, लेकिन पशु चिकित्सा टीम के 8 घंटे से अधिक समय के सर्वोत्तम प्रयासों के बावजूद अगले दिन उसकी मृत्यु हो गई। माँ दूसरे शावक के साथ सामान्य व्यवहार प्रदर्शित कर रही है और दूसरे शावक को सक्रिय रूप से स्तनपान करते हुए देखा गया है और चिड़ियाघर की टीम 24x7 सीसीटीवी निगरानी के तहत माँ और शावक के व्यवहार की निगरानी कर रही है।

Comments


bottom of page