top of page
  • globalnewsnetin

भारत में इंडोनेशिया के राजदूत ने एसईजेड सेई मंगकेई में निवेश के अवसरों पर डाला प्रकाश


चंडीगढ़: दो आर्थिक तौर पर महाशक्तियाँ, भारत और इंडोनेशिया अपने व्यापार और निवेश संबंधों को मजबूत करना जारी रख रहे हैं, इंडोनेशिया का विशेष ध्यान अपने विशेष आर्थिक क्षेत्र सेई मंगकेई पर है। दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय व्यापार 38.84 बिलियन अमेरिकी डॉलर तक पहुंच गया है, जिससे इंडोनेशिया 2022-23 की अवधि के लिए दक्षिण पूर्व एशिया में भारत का सबसे बड़ा व्यापारिक भागीदार बन गया है। यह मजबूत व्यापार संबंध इंडोनेशिया के भीतर रबर, प्लास्टिक, रसायन, कपड़ा और एफएमसीजी जैसे विभिन्न क्षेत्रों में अब तक 40 से अधिक भारतीय कंपनियों द्वारा किए गए निवेश पर आधारित है।


आज सीआईआई उत्तरी क्षेत्र मुख्यालय में ’सेई मंगकेई में निवेश के अवसर’ विषय पर आयोजित एक सत्र में, भारत में इंडोनेशिया की राजदूत सुश्री इना हाग्निनिंग्ट्यास कृष्णमूर्ति ने शील चंद एग्रोइल्स प्राइवेट लिमिटेड(90 मिलियन अमेरिकी डॉलर), एलायंस वर्ल्ड (55 मिलियन अमेरिकी डॉलर), और एसजीएफ इंडस्ट्रीज (53 मिलियन अमेरिकी डॉलर) के साथ एसईजेड में 198 मिलियन अमरीकी डालर के भारतीय निवेशकों के हस्ताक्षरित समझौता ज्ञापना (एमओयू)ें पर प्रकाश डाला।


सुश्री कृष्णामूर्ति ने ’गोल्डन इंडोनेशिया 2045 की ओर - निवेश के माध्यम से एक प्रभुत्व सम्पंन, उन्नत और सत्त राष्ट्र की प्राप्ति’ के आदर्श वाक्य के माध्यम से व्यापार और निवेश में मजबूत द्विपक्षीय संबंधों को बढ़ावा देने के लिए अपने देश की प्रतिबद्धता व्यक्त की।


उन्होंने कहा, ’हम इंडोनेशिया में किसी भी आने वाले निवेश और भारत से बाहर जाने वाले निवेश का समर्थन करने और सुविधा प्रदान करने के लिए तैयार हैं। यह दो महान देशों के बीच निवेश, व्यापार और अर्थव्यवस्था में मजबूत द्विपक्षीय प्रतिबद्धता को दर्शाता है। इसके अलावा, एसईजेड सेई मंगकेई सबसे अलग है। इंडोनेशिया में सबसे अच्छे निवेश स्थलों में से एक, और हम व्यवसायों को इसकी क्षमता का पूरा उपयोग करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं।


नार्थ सुमात्रा, इंडोनेशिया में पीटी कावासन इंडस्ट्री नुसंतारा (केआईएनआर) के डायरेक्टर श्री एडवर्ड सामंथा ने सेई मंगकेई एसईजेड की स्थापना करके फाॅरन डायरेक्टर इवेस्टमेंट (एफडीआई) को बढ़ावा देने के लिए इंडोनेशिया की प्रतिबद्धता पर जोर दिया। उन्होंने कहा, हमारे पास मौजूद एसईजेड क्षमता के साथ, प्रचुर प्रोत्साहन उद्योग के विकास के लिए प्रमुख बूस्टर बन जाएगा, इस प्रकार प्रत्येक उद्योग की अधिकतम क्षमता को उजागर किया जाएगा।


द्विपक्षीय व्यापार को बढ़ावा देने के लिए सीआईआई के प्रयासों पर प्रकाश डालते हुए, श्री विवेक गुप्ता, - सीआईआई चंडीगढ़ यूटी के चेयरमेन और एनईसी पैकेजिंग लिमिटेड के मैंनेजिंग डायरेक्टर श्री विवेक गुप्ता ने बात को साझा करते हुए कहा कि सीआईआई विभिन्न क्षेत्रों में इंडोनेशिया के साथ जुड़ रहा है, दोनों देशों के व्यवसायों को जुड़ने और सहयोग करने में सहायता कर रहा है। उभरती अर्थव्यवस्थाओं के साथ मैंमबर्स के जुड़ाव को सुविधाजनक बनाने की अपनी पहल के तहत, सीआईआई ने 5 सितंबर 2019 को जकार्ता, इंडोनेशिया में अपना नवीनतम विदेशी कार्यालय खोला था। भारत सरकार के विदेश मंत्रालय के डॉ. एस जयशंकर द्वारा उद्घाटन किया गया यह कार्यालय जनवरी 2020 में चालू हो गया।


श्री गुप्ता ने सत्र में सेई मंगकेई एसईजेड में ऑटोमोटिव कम्पोनेंटस, कृषि वस्तुओं, इंजीनियरिंग उत्पादों, फार्मास्यूटिकल्स और जैव प्रौद्योगिकी क्षेत्रों, कृषि मशीनरी, मशीनरी कपड़ा आदि के क्षेत्रों में व्यापार के विस्तार की संभावना पर प्रकाश डाला।


सत्र ने इंडोनेशिया को एक प्रमुख निवेश गंतव्य के रूप में मूल्यवान अंतर्दृष्टि प्रदान की तथा देश के भीतर अवसरों और नीतियों के बारे में जानकारी प्रदान की। इसके अलावा, उन्होंनेे इंडोनेशिया के नार्थ सुमात्रा में स्थित एसईआई मंगकेई एसईजेड में उपलब्ध व्यवसायों के लिए अनुकूल सुविधाओं और सेवाओं पर प्रकाश डाला।


निवेश की मुख्य बातें

- शील चंद एग्रोइल्स प्राइवेट लिमिटेड या पीटी शील ऑयल इंडोनेशिया/ओलियोकेमिकल और रिफाइनरी/निवेश अनुमान यूएसडी अधिकतम न्यूनतम 90 मिलियन


- एलायंस वल्र्ड या पीटी एलायंस कंज्यूमर प्रोडक्ट्स इंडोनेशिया/ सोप नूडल प्लांट और सोप बार पैकेजिंग/निवेश अनुमान यूएसडी अधिकतम न्यूनतम 55 मिलियन


- एसजीएफ इंडस्ट्रीज या पीटी एसजीएफ इंडस्ट्री एशिया/ओलियोकेमिकल/निवेश अनुमान यूएसडी अधिकतम न्यूनतम 53 मिलियन

Comments


bottom of page