• globalnewsnetin

माईं भागों आम्र्ड फोर्सिज़ प्रैपरेटरी इंस्टीट्यूट फॉर गर्लज़ की तरफ से दाखि़ला परीक्षा 5 अगस्त को


डिफैंस सर्विसिज में कमिश्नड अफसरों के तौर पर कॅरियर के प्रशिक्षण के लिए 25 लड़कियों के बैंच का चयन किया जायेगा

सी -डैक के द्वारा कोविड -19 सुरक्षा नियमों के अनुसार ली जायेगी परीक्षा

चंडीगढ़, (अदिति):पंजाब सरकार की प्रमुख संस्था माईं भागों आम्र्ड फोर्सिज प्रैपरेटरी इंस्टीट्यूट फॉर गर्लज़ की तरफ से कोरोना महामारी के मद्देनजऱ इस साल उम्मीदवारों की रजिट्रेशन सी-डैक पोर्टल पर ऑनलाइन की गई है। माईं भागों आम्र्ड फोर्सिज प्रैपरेटरी इंस्टीट्यूट में प्रशिक्षण के लिए लड़कियों के नये बैंच की दाखि़ला परीक्षा 5 अगस्त, 2020 को होगी। इस बात की जानकारी देते हुये माईं भागों ए.एफ.पी.आई के डायरैक्टर मेजर जनरल आई. पी. सिंह ने बताया कि परीक्षा लेने का जिम्मा आउटसोर्सिंग के आधार पर सी-डैक को दिया गया है, जो उम्मीदवारों की योग्यता, दाखि़ला कार्ड जारी करने और उनको परीक्षा की तारीख़ और स्थान की जानकारी देगा।

जनरल आई.पी. सिंह ने बताया कि माईं भागों ए.एफ.पी.आई की तरफ से हर साल 12वीं के पास 25 लड़कियों के नये बैंच में दाखि़ले के लिए लिखित दाखि़ला परीक्षा करवाई जाती है, जिनको रक्षा सेवा में कमिश्नड अफ़सर के तौर पर कॅरियर का प्रशिक्षण दिया जाता है। उन्होंने कहा कि आम तौर पर पिछले सालों के दौरान दाखि़ला प्रक्रिया 15 जुलाई तक मुकम्मल हो जाती थी, परन्तु इस साल कोविड -19 के कारण इस प्रक्रिया में देरी हुई है।

जनरल सिंह ने बताया कि इस साल 1155 उम्मीदवारों ने ऑनलाईन रजिस्ट्रेशन किया है, जिनमें से 821 उम्मीदवार परीक्षा में शामिल होने के योग्य पाये गए। उन्होंने बताया कि परीक्षा करवाने सम्बन्धी सभी ज़रूरी प्रशासनिक मंजूरियां ले ली गई हैं। सामाजिक दूरी बनाई रखने और जलसा होने से बचने के लिए यह परीक्षा दो स्थानों, गोल्डन बैल्ल पब्लिक स्कूल, सैक्टर 77, एस.ए.एस.नगर (मोहाली) और माईं भागों ए.एफ.पी.आई, गर्लज़ कैंपस, सैक्टर 66, मोहाली में ली जाऐगी। योग्य उम्मीदवार अपना दाखि़ला कार्ड वैबसाईट लिंक http://www.recruitment-portal.in/reccdac/Dept.aspx?id=26  से डानलोड कर सकते हैं।

उन्होंने आगे कहा कि कोविड -19 के मद्देनजऱ परीक्षाएं करवाने के लिए उम्मीदवारों की सुरक्षा और सरकार के सभी दिशा-निर्देशों की पालना की जायेगी। उन्होंने बताया कि कोरोना से बचाव के लिए सामाजिक दूरी बनाये रखने, तापमान मापने, केंद्रीय प्रबंधों के अंतर्गत हर व्यक्ति विशेष की समूची सैनेटाईजेशन, मास्क पहनने, इंविजीलेटरों के द्वारा हैड सैनेटाईजऱ और फेस शील्डों के प्रयोग की पालना की जायेगी। यदि स्क्रीनिंग के दौरान किसी उम्मीदवार में कोरोना के लक्षणों पाये जाते हैं तो उस उम्मीदवार को सीधा अस्पताल भेजा जायेगा।

जनरल सिंह ने यह भी बताया कि 12वीं कक्षा के नतीजे हाल ही में ऐलाने गए हैं और कालेजों का अकादमिक सैशन 1 सितम्बर, 2020 से शुरू होने की संभावना है, चुनी गई लड़कियाँ अपनी अकादमिक पढ़ाई के लिए कालेज में दाखि़ला ले सकेंगी, जि़क्रयोग्य है कि आम्र्ड फोर्सिज़ प्रैपरेटरी इंस्टीट्यूट की दाखि़ला परीक्षा में चुनी जाने वाली लड़कियाँ एम. सी. एम डी.ए.वी कालेज चंडीगढ़ से अपनी ग्रैजुएशन करती हैं।

माईं भागों संस्था के डायरैक्टर, जनरल आई.पी. सिंह ने बताया कि माईं भागों आम्र्ड फोर्सिज प्रैपरेटरी इंस्टीट्यूट  फॉर गर्लज़ की अब तक सेना और हवाई सेना में क्रमवार लैफ्टिनैंट और फ्लायंग अफ़सर के तौर पर दो महिला कैडिटों की नियुक्ति हुई है। तीन महिला कैडिट ओ.टी.ए, चेन्नई और ए.एफ.ए, डुंडीगल में प्रशिक्षण अधीन हैं। 8 महिला कैडिट प्री-कमिशन ट्रेनिंग अकैडमियों में शामिल होने के लिए मेरिट के इन्तज़ार में हैं। इस समय पर माईं भागों आम्र्ड फोर्सिज़ से सम्बन्धित 58 महिला कैडिट एयर फोर्स और आर्मी एस.एस.बी. इंटरव्यू के इंजार में हैं। 

 Global Newsletter

  • Facebook
  • social-01-512
  • Twitter
  • LinkedIn
  • YouTube