• globalnewsnetin

मोटर व्हीकल टैक्स (रोड टैक्स) ऑनलाइन जमा करवाने के नाम पर हो रही धोखाधड़ी


चंडीगढ़, (अदिति)- हरियाणा में मोटर व्हीकल टैक्स (रोड टैक्स) ऑनलाइन जमा करवाने के नाम पर हो रही धोखाधड़ी के मामले में परिवहन मंत्री श्री मूलचंद शर्मा द्वारा दिखाई गई सख्ती का असर दिखने लगा है। गत दिनों बावल में रोड टैक्स की फर्जी रसीद बनाने का मामला सामने आने पर अब जिला पलवल के होडल में भी इसी तरह का मामला देखने को मिला है।

गत सायं होडल में रोड टैक्स की फर्जी रसीद काटने का मामला संज्ञान में आते ही परिवहन मंत्री ने आरोपी के खिलाफ तुरंत एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दिए। इसके साथ ही, उन्होंने संबंधित जिलों के आरटीए अधिकारियों को भी इस तरह की धोखाधड़ी करने वालों पर लगातार नजर रखने को कहा है।

उन्होंने बताया कि कल सायं होडल के बाबरी मोड पर आरटीए कार्यालय पलवल के सहायक सचिव द्वारा की जा रही चैकिंग के दौरान राजस्थान नंबर की एक बस मथुरा की तरफ से आई। बस को रूकवाकर मोटर वाहन टैक्स चैक करवाने को कहा गया तो चालक ने हरियाणा के परिवहन विभाग के नाम से कटी एक रसीद दिखाई जो फर्जी निकली। मौके पर मौजूद आरटीए अधिकारी के पूछताछ करने पर चालक ने बताया कि उसने यह रसीद गुलशन ढाबे के पास बने एक बूथ पर कटवाई थी। मंत्री ने बताया कि गत दिनों जिला रेवाड़ी के बावल में भी एक ऐसा ही मामला सामने आया था।

परिवहन मंत्री श्री मूलचंद शर्मा ने बताया कि राजस्थान, उत्तर प्रदेश, पंजाब और हिमाचल प्रदेश जैसे अन्य राज्यों के साथ लगती हरियाणा सीमा पर कुछ लोगों ने मोटर व्हीकल टैक्स ऑनलाइन जमा करवाने के नाम पर प्राइवेट दुकानें (खोखे) खोली हुई हैं। ये लोग वाहन मालिकों से पैसे लेकर उसकी फर्जी रसीद बना देते हैं और सरकार के खजाने में पैसा जमा नहीं करवाते।  अगर रास्ते में कोई जांच होती है तो ऐसे वाहन चालक पकड़ में आ जाते हैं वरना इस तरह की धोखाधड़ी का पता लगाना मुश्किल होता है। इससे एक ओर जहां सरकार को चपत लगती है वहीं वाहन मालिकों के साथ भी ठगी होती है।

उन्होंने बताया कि प्रदेश में जहां कहीं भी इस तरह की प्राइवेट दुकानें चल रही हैं उनकी जांच की जाएगी और टैक्स चोरी या वाहन मालिकों के साथ धोखाधड़ी का मामला सामने आने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

 Global Newsletter

  • Facebook
  • social-01-512
  • Twitter
  • LinkedIn
  • YouTube