• globalnewsnetin

मातृभूमि की रक्षा के लिये प्राण न्योछावर करने वाले शहीदों का ऋण कभी नहीं चुकाया जा सकता


फरीदाबाद (ग्लोबल न्यूज़) - हरियाणा के परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने आज फरीदाबाद में युद्ध स्मारक पहुंचकर कारगिल युद्ध के शहीदों को नमन किया और उनके परिजनों के प्रति भी कृतज्ञता व्यक्त की। उन्होंने कहा कि मातृभूमि की रक्षा के लिये प्राण न्योछावर करने वाले शहीदों का ऋण कभी नहीं चुकाया जा सकता और राष्ट्र शहीदों की कुर्बानी को हमेशा याद रखेगा। उन्होंने कहा कि आज ही के दिन 26 जुलाई, 1999 को भारतीय सेना ने पाकिस्तानी घुसपैठियों को खदेड़ कर कारगिल में तिरंगा फहराया था। इस युद्ध में हमारे सैनिकों के बलिदान, साहस और देश के प्रति समर्पण को कभी भुलाया नहीं जा सकता।

श्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि हरियाणा में प्राचीन काल से ही शौर्य, देशभक्ति और राष्ट्र की आन-बान व शान की रक्षा के लिए बलिदान देने की महान परम्परा रही है। उन्होंने कहा कि इस युद्ध के दौरान भारत माता के वीर सपूतों द्वारा दिया गया बलिदान हमारी युवा पीढ़ी को सदैव प्रेरित करता रहेगा।

परिवहन मंत्री ने इस मौके पर तत्कालीन फरीदाबाद जिले के गांव मोहना निवासी शहीद बिरेंद्र सिंह और गांव सोफ़्ता, जोकि आज पलवल जिले में है, निवासी शहीद जाकिर हुसैन को विशेष रूप से याद करते हुए कहा कि कारगिल की शहादत में फरीदाबाद का भी खास योगदान रहा है। उन्होंनेे कहा कि गर्व की बात है कि मातृभूमि की रक्षा के लिए हरियाणा के जवान बढ़-चढक़र अपनी सेवाएं दे रहे हैं और आज भारतीय सेना में हर दसवाँ जवान हरियाणा से है।

 Global Newsletter

  • Facebook
  • social-01-512
  • Twitter
  • LinkedIn
  • YouTube