• globalnewsnetin

राष्ट्रीय शिक्षा नीति स्कूली, उच्चतर शिक्षा व व्यावसायिक शिक्षा में कारगर सिद्ध होगी-खट्टर


चंडीगढ़,(अदिति) - हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कल केन्द्रीय मंत्रिमण्डल द्वारा राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 को मंजूरी प्रदान करने के निर्णय का स्वागत करते हुए कहा है कि बदलते वैश्विक परिदृश्य के मद्देनजर नई नीति स्कूली, उच्चतर शिक्षा व व्यावसायिक शिक्षा में कारगर सिद्ध होगी।

मुख्यमंत्री ने नई शिक्षा नीति पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि पिछले 5 वर्षों से शिक्षा नीति तैयार करने के लिए अभूतपूर्व सहयोगात्मक, समावेशी और अत्यधिक भागीदारी वाली परामर्श प्रक्रिया की शुरूआत की गई थी। देश की 2.5 लाख ग्राम पंचायतों, शहरी स्थानीय निकायों व जिलों से प्राप्त दो लाख से अधिक सुझावों को इस नीति में शामिल किया गया, जो इस नीति की प्रमुख विशेषता है। उन्होंने कहा कि सभी स्टेकहोल्डर्स व शिक्षाविदों के सुझावों को भी शामिल किया गया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि शिक्षा पहले की तरह लाभ के लिए नहीं, व्यवहार पर आधारित होगी और अन्तर्राष्ट्रीयकरण को संस्थागत रूप से सहयोग तथा छात्र और संकाय की गतिशीलता दोनों के माध्यम से सुगम बनाएगी।मुख्यमंत्री ने आशा व्यक्त की है कि हरियाणा का शिक्षा विभाग भी इस नीति का अक्षरश: अनुसरण करेगा और इससे बच्चों का सर्वांगीण विकास सुनिश्चित होगा।

हरियाणा के शिक्षा मंत्री कंवर पाल ने भी कल केन्द्रीय मंत्रिमण्डल द्वारा राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 को मंजूरी प्रदान करने के निर्णय का स्वागत किया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने नई शिक्षा नीति के माध्यम से भारत को पुन: विश्वगुरू बनाने की दिशा में एक नया अध्याय जोड़ा है।

 Global Newsletter

  • Facebook
  • social-01-512
  • Twitter
  • LinkedIn
  • YouTube