• globalnewsnetin

विकास कार्यो में पूरी पारदर्शिता बरती जा रही


रोहतक (ग्लोबल न्यूज़): हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि सरकार द्वारा विकास कार्यो में पूरी पारदर्शिता बरती जा रही है और इन विकास कार्यों हेतू सरकार सोशल ऑडिटिंग सिस्टम की ओर आगे बढ़ रही है।

मुख्यमंत्री आज रोहतक में प्रेस वार्ता को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि कोविड-19 महामारी के कारण बाधित हुई गतिविधियां अब धीरे-धीरे 85 प्रतिशत तक पटरी पर आ चुकी हैं। सरकार द्वारा कोविड-19 से निपटने हेतू अनेक कदम उठाए गए हैं। अनलॉक-2 के दौरान सभी गतिविधियां में तेजी दर्ज की गई है। उन्होंने कहा कि गत वर्ष 2019-20 में अप्रैल से जून तक 16009 करोड़ रूपए राजस्व के रूप में सरकार को प्राप्त हुए थे, जबकि वर्तमान वित वर्ष में इस अवधि के दौरान 11098 करोड़ प्राप्त हुए हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना संकट के समय में सरकार द्वारा अभी तक लगभग 3 हजार करोड़ रूपए खर्च किए गए हैं। गत जून माह में बिजली की खपत 80 प्रतिशत तथा उद्योग सैक्टर में भी 80 प्रतिशत कार्य हो रहा है।

उन्होंने कहा कि कोरोना संकट के दौरान जरूरतमंद लोगों की सहायता हेतू हरियाणा कोरोना रिलीफ फंड में 290 करोड़ रूपए की राशि प्राप्त हुई है। जनता को तकलीफ न हो इसके लिए नई व्यवस्थाएं भी की गई हैं। उन्होंने कहा कि हरियाणा कोरोना रिलीफ फंड में से 16 लाख लोगों को 3 हजार रुपये से 5 हजार रुपये तक की आर्थिक सहायता के तौर पर 700 करोड़ रूपए की राशि दी गई है। सरकार द्वारा अप्रैल, मई और जून माह के दौरान मुफ्त राशन वितरित किया गया, जिस पर 107 करोड़ रूपए की राशि खर्च हुई है। प्रदेश में पेंशन धारकों एवं कर्मचारियों से 75 करोड़ रूपए की राशि इस फंड में प्राप्त हुई है तथा इनमें लगभग 300 ऐसे कर्मचारी हैं जिन्होंने एक माह का पूरा वेतन दान में दिया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के सभी विधायकों ने एक-एक माह का वेतन इस फंड में दिया है तथा एक वर्ष हेतू सैलरी का 30 प्रतिशत हिस्सा इस फंड में देने का फैसला लिया है। किसानों ने भी इस फंड में दान दिया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि असंगठित क्षेत्र के मजदूरों के कल्याण हेतु 35 करोड़ रूपए, आयुष मिशन के तहत 6 करोड़ 72 लाख रूपए खर्च किए गए हैं तथा एक्सग्रेसिया हेतू 10 करोड़ रूपए की धनराशि आरक्षित की गई है। इसके अलावा, प्रदेश में आपदा प्रबंधन के तहत 504 करोड़ रूपए की राशि खर्च की गई है। बसों और विशेष श्रमिक ट्रेनों के माध्यम से प्रवासी मजदूरों को उनके गृह राज्यों में भेजने की व्यवस्था की गई। उन्होंने कहा कि वे समाज के हर पीडि़त व्यक्ति के कल्याण हेतू संवेदना पूर्वक विचार करते है।

श्री मनोहर लाल ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा मुख्यमंत्री परिवार समृद्धि योजना के तहत हर परिवार का पूरा डाटा एकत्रित किया है तथा पात्रता अनुसार सम्बंधित परिवारों को योजनाओं का लाभ प्रदान किया जाएगा। उन्होंने स्पष्ट किया कि सरकार द्वारा क्रियान्वित की जा रही भावांतर भरपाई योजना का लाभ पंजीकरण करवाने वाले किसानों को दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार किसानों से बाजरा, सरसों आदि का दाना-दाना खरीदती है।

इस अवसर पर करनाल के लोकसभा सांसद श्री संजय भाटिया, सोनीपत के लोकसभा सांसद श्री रमेश कौशिक, राज्यसभा सांसद श्री रामचन्द्र जांगड़ा, सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे।

 Global Newsletter

  • Facebook
  • social-01-512
  • Twitter
  • LinkedIn
  • YouTube