top of page
  • globalnewsnetin

समाज को दिशा देने में संत महात्माओं की महत्वपूर्ण भूमिका- मनोहर लाल


हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि संत महात्मा समाज को दिशा देते हैं। उन्होंने युवाओं की तुलना वायु से करते हुए कहा कि जिस प्रकार वायु की कोई दिशा नहीं होती, जिधर दबाव होता है उसी तरफ वायु चली जाती है, उसी प्रकार युवाओं को भी सही दिशा देना जरूरी है, जिसमें संत महात्माओं की महत्वपूर्ण भूमिका है, उन्हें संस्कारित करना जरूरी है।

मुख्यमंत्री गुरूग्राम के सेक्टर-47 में नवनिर्मित राम कृष्ण मिशन विवेकानंद इंस्टिट्यूट ऑफ वैल्यूज के प्रदेश के पहले केंद्र में ऑडिटोरियम का उद्घाटन करने उपरांत उपस्थित जनसमूह को संबोधित कर रहे थे। इस कार्यक्रम में रामकृष्ण मिशन की ओर से मुख्यमंत्री को शॉल व स्मृति चिन्ह् भेंट कर सम्मानित किया गया।

मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि स्वामी विवेकानंद युवाओं के आदर्श हैं। वर्तमान परिवेश में युवाओं को स्वामी विवेकानंद के विचारों से अवगत कराया जाए ताकि वे प्रेरित होकर सन्मार्ग पर चलें। उन्होंने कहा कि स्वामी विवेकानंद के चित्र के सामने जाते ही युवाओं में जोश भर जाता है। स्वामी विवेकानंद जी के समय संस्कारयुक्त शिक्षा का जो पौधा लगाया गया था, आज वह वट वृक्ष का रूप लेकर न केवल देश में अपितु पूरे संसार में उनके विचारों का प्रचार प्रसार कर रहा है। स्वामी विवेकानंद का बचपन का नाम नरेंद्र था। आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी स्वामी विवेकानंद की सोच को अपनाये हुए हैं और उन्हीं के विचारों को अपनाते हुए देश को एक सूत्र में पिरोने में लगे हैं। एक भारत श्रेष्ठ भारत उनको सोच का केंद्र बिंदु हैं। देशवासियों में आपस में सांस्कृतिक विचारों का आदान प्रदान हो और सभी एकजुट रहें। उन्होंने कहा कि देश को अखण्ड रखना भी संत महात्माओं की परंपरा से आया है। आदि शंकराचार्य ने सारे देश का भ्रमण कर देश को एकसूत्र में बांधा था। उन्होंने कहा कि समाज को अहिंसा, दया, मानवता, सदाचार, सेवा आदि के भाव संत महात्मा ही देते हैं। वर्तमान राज्य सरकार संत महात्माओं को सम्मान दे रही है, उनके विचारों का प्रसार करने के लिए उनकी जयंती मना रही है।

0 comments

Comments


bottom of page