• globalnewsnetin

सरकारी मैडीकल कॉलेज कोवैक्सीन के तीसरे पड़ाव के ट्रायल में 15 अक्तूबर से लेंगे हिस्सा


चंडीगढ़, :कोविड महामारी के विरुद्ध भारत बायोटैक लिमिटेड द्वारा इंडियन कौंसिल ऑफ मैडीकल रिर्सच (आई.सी.एम.आर.) के सहयोग से परख अधीन कोवैक्सीन के तीसरे पड़ाव में पंजाब के तीन सरकारी मैडीकल कॉलेज इसके ट्रायल में हिस्सा लेंगे। यह ट्रायल 15 अक्तूबर से शुरू होने जा रहे हैं। यह जानकारी एक सरकारी प्रवक्ता ने मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह की अध्यक्षता में हुई वर्चुअल कोविड समीक्षा मीटिंग के उपरांत दी। मुख्यमंत्री ने चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान विभाग को ट्रायल के दौरान पूरी देखभाल और सुरक्षा सावाधानियों के सख़्ती से पालन को यकीनी बनाने की हिदायत की, जिसके लिए प्रतिभागियों की सहमति लाजि़मी होगी। उन्होंने यह यकीनी बनाने के लिए कड़े निर्देश जारी किये हैं कि गरीब व्यक्तियों को उनकी सहमति, ज्ञान और संभावित नतीजों और खतरों से अवगत करवाए बिना ट्रायल में शामिल न किया जाये। भारत बायोटैक लिमिटेड, जिसने कुछ दिन पहले राज्य सरकार के साथ संपर्क किया था, ने ट्रायल में हिस्सा लेने वालों के लिए किसी भी बुरी घटना/प्रभाव या मौत के मामले में 75 लाख रुपए का बीमा कवर देने का ऐलान किया है। टीके के संभावित बुरे प्रभावों में बुख़ार, इंट्रामस्क्यूलर टीके की जगह पर दर्द और बेचैनी शामिल हो सकते हैं। ट्रायल में भाग लेने वालों को (0 और 28 दिन) मानवीय ट्रायल के तीसरे पड़ाव के हिस्से के तौर पर निष्क्रिय वायरस टीके की दो ख़ुराक दी जाएंगी।

 Global Newsletter

  • Facebook
  • social-01-512
  • Twitter
  • LinkedIn
  • YouTube