• globalnewsnetin

सीएम ट्विटर हैंडल पर समस्याओं में से 85 प्रतिशत का हुआ समाधान


चंडीगढ़, (अदिति) - हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के आधिकारिक ट्विटर हैंडल ञ्चसीएमओ पर वर्ष 2020 में उठाई गई समस्याओं में से 85 प्रतिशत को संसाधित और बाद में उनका समाधान किए जाने से सोशल मीडिया मंच पर लोगों के आभार के कई संदेश देखे जा सकते हैं ।

मुख्यमंत्री के आईटी सलाहकार ध्रुव मजूमदार, जिन्होंने वर्ष 2017 में हरियाणा में सोशल मीडिया शिकायत ट्रैकर की अवधारणा बनाने और लागू करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी, ने कहा कि वर्ष 2020 में ञ्चसीएमओ पर 31 विभिन्न विभागों से संबंधित 78,063 शिकायतें प्राप्त हुई। जिनमें से अधिकतम 13,393 शिकायतें सरकारी जिला कार्यालयों से संबंधित थी। इसके अलावा, 9,926 शिकायतें बिजली से संबंधित और 9,756 शिकायतें कचरा से संबंधित थीं।

कुछ उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि हाल ही में ट्विटर हैंडल पर जींद क्षेत्र में कचरे के संबंध में एक शिकायत मिली थी, जिसे ट्विटर हैंडल पर उठाने के 24 घंटों के भीतर हल किया गया था। शिकायतकर्त्ता अमित ने ट्विटर हैंडल पर आभार व्यक्त किया और ट्वीट किया "24 घंटे के भीतर मेरी शिकायत का समाधान करने के लिए धन्यवाद। अब, यह क्षेत्र साफ-सुथरा है।"

एक अन्य ट्वीट, जिसमें नागरिक ने ट्वीट करने के एक घंटे के भीतर राज्य सरकार से प्रतिक्रिया प्राप्त की, भी कचरा निपटान के संबंधित था। यह ट्वीट गुरुग्राम के कक्षा 11 के छात्र हृदय ने उठाया था, जो 'तृष्णी संगठन' से जुड़ा हुआ था, जिसे जल्द ही एक गैर-सरकारी संगठन (एनजीओ) के रूप में पंजीकृत किया जाएगा। संगठन ने गुरुग्राम में कूड़े के ढेर के बारे में एक शिकायत की थी, जिसके लिए उन्हें एक दिन के भीतर राज्य सरकार से प्रतिक्रिया मिली और उस कचरे के ढेर को साफ किया गया।

वर्ष 2020 में कोविड-19 से संबंधित लगभग 5,940 शिकायतें की गईं। एक कोविड रोगी ने ट्वीट में बताया कि स्थानीय स्वास्थ्य टीम उसके पास नहीं आई है और उसे अभी-अभी स्वास्थ्य विभाग से उसके पास आने का आश्वासन मिला है। बाद में उन्होंने आभार व्यक्त करते हुए कहा कि इस मुद्दे को सुलझा लिया गया है।

गुरुग्राम के निवासी श्री सचिन धवन द्वारा की गई ऐसी ही एक अन्य शिकायत में, उसने क्षेत्र के सिविल अस्पताल में न्यूमोकोकल और रोटावायरस के टीके न मिलने के संबंध में ट्वीट किया था। हस्तक्षेप के बाद, सचिन धवन ने ट्वीट किया, ‘‘संबंधित अधिकारियों से प्रतिक्रिया की सराहना करता हूं, क्योंकि ट्वीट के एक घंटे के भीतर मामले को सुलझा लिया गया है।‘‘ मामला सुलझने के बाद श्री धवन ने डॉ सबीना का आभार व्यक्त किया। एसएमजीटी टीम को स्वास्थ्य विभाग से संबंधित कुल 2,070 शिकायतें प्राप्त हुई।

इस बीच, गौरव सिंगला ने कैथल के सरकारी अस्पताल में एक पीवीसी वैक्सीन की अनुपलब्धता से संबंधित एक अन्य शिकायत की। तत्पश्चात, विभाग द्वारा इस मामले को सुलझाया गया और टीका प्राथमिकता के आधार पर उपलब्ध कराया गया। गौरव सिंगला ने फिर ‘‘त्वरित समाधान के लिए धन्यवाद’’ ट्वीट करते हुए आभार व्यक्त किया। इसके अतिरिक्त, वर्ष 2020 में सोशल मीडिया शिकायत ट्रैकर पर स्ट्रीट लाइट से संबंधित लगभग 1,063 शिकायतें और पुलिस विभाग से संबंधित 7,778 शिकायतें की गई।

श्री ध्रुव मजूमदार ने इस बात पर भी जोर दिया कि यदि नागरिक इस मुद्दे के बारे में विशिष्ट और प्रासंगिक जानकारी जैसे कि सटीक स्थान आदि साझा करते हैं, तो कई मामलों में शिकायत के समाधान को त्वरित किया जा सकता हैं।

 Global Newsletter

  • Facebook
  • social-01-512
  • Twitter
  • LinkedIn
  • YouTube