• globalnewsnetin

हरियाणा की पहली महिला सांसद का निधन


चंडीगढ़ (गुरप्रीत) हरियाणा की वरिष्‍ठ नेता और पुडुचेरी की पूर्व उपराज्‍यपाल चंद्रावती का 92 साल में निधन हो गया है। पिछले काफी समय से वे बीमार चल रही थीं। उनके निधन पर विभिन्‍न राजनीतिक दलों के नेताओं ने शोक जताया है।

चंद्रावती हरियाणा की पहली महिला सांसद थीं। वह 1977 में भिवानी लोकसभा क्षेत्र से सांसद बनीं थीं। हरियाणा विधानसभा की पहली विधायक भी बनी थीं। दो बार मंत्री भी बनीं। पहली बार 1964 में और 1966 तक पद पर रहीं। इसके 1972 से 1974 तक मंत्री रहीं।

चंद्रावती 1982 से 1985 तक हरियाणा विधानसभा में नेता विपक्ष भी रहीं। 1990 में उन्हें पुडुचेरी का उपराज्‍यपाल बनाया गया था। फरवरी 1990 से दिसंबर 1990 तक वे इस पद पर रहीं। 1977 में वे हरियाणा में जनता पार्टी की अध्‍यक्ष भी रहीं और इस पद पर 1879 पर रहीं।

चंद्रावती अपने क्षेत्र में ग्रेजुएशन करने वाली पहली महिला थीं। इसके साथ ही वह पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट की पहली महिला वकील भी थीं। 3 सितंबर 1928 को दादरी के गांव डालावास में उनका जन्म हुआ था और उन्होंने पंजाब के संगरूर जिले से स्नातक की थी। दिल्ली विश्वविद्यालय से एलएलबी की थी।


 Global Newsletter

  • Facebook
  • social-01-512
  • Twitter
  • LinkedIn
  • YouTube