• globalnewsnetin

हुड्डा ने ली कांग्रेस विधायक दल की बैठक


बरोदा उपचुनाव जीतने की रणनीति पर हुई चर्चा

चंडीगढ़ (अदिति) हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने आज कांग्रेस विधायक दल की बैठक ली। इसमें बरोदा उप चुनाव जीतने की रणनीति पर मंथन किया गया। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि आज बरोदा की जनता पूरी तरह कांग्रेस पार्टी के साथ खड़ी है। क्योंकि कांग्रेस के कार्यकाल के दौरान बरोदा में खूब विकास के कार्य हुए लेकिन बीजेपी के पास गिनाने के लिए आज कोई भी काम नहीं है। बैठक में एक-एक करके सभी विधायकों ने अपने सुझाव दिए। किरण चौधरी और कुलदीप वत्स ने डिजिटल एप्प के जरिए बैठक में हिस्सा लिया और अपने सुझाव दीजिए।

आदमपुर से विधायक कुलदीप बिश्नोई ने कहा कि नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने उपचुनाव के लिए मुख्यमंत्री खट्टर को चुनौती देकर दमदार शुरुआत की है। इससे पार्टी के तमाम नेताओं और कार्यकर्ताओं में जोश बढ़ा है। इसी जोश, एकजुटता और रणनीतिक प्रबंधन के साथ कांग्रेस इस चुनाव को जीतेगी। किरण चौधरी ने कहा कि आज प्रदेश की जनता बीजेपी से पूरी तरह त्रस्त हो चुकी है। इससे जनता को निजात दिलवाने की जिम्मेदारी कांग्रेस की है। इसलिए कांग्रेस को बरोदा उपचुनाव में धमाकेदार जीत दर्ज करनी है। रघुवीर कादयान ने कहा कि जनता आज महंगाई, अपराध, बेरोजगारी और घोटालों से परेशान है। इस चुनाव में बीजेपी की नाकामियों को जनता के सामने रखा जाएगा। उन्होंने कहा कि चुनाव में कांग्रेस की जीत तो तय है। लेकिन हमें जीत का अंतर इतना बड़ा देना है कि बीजेपी दूर-दूर तक मुकाबले में नजर ना आए।

बैठक में कई विधायकों ने राज्यसभा सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा को बरोदा उपचुनाव का इंचार्ज बनाने का सुझाव बैठक में रखा। विधायकों का कहना था कि हल्के में दीपेंद्र सिंह हुड्डा की पकड़ मजबूत है और तमाम नौजवान उनसे जुड़े हुए हैं। इसलिए वह पूरे चुनाव को अच्छे से मैनेज कर पाएंगे। राव दान सिंह ने कहा कि चुनाव जीतने के लिए बीजेपी सरकार हर तरह के हथकंडे अपनाएगी, जिनका मजबूती से जवाब देना जरूरी है।

बैठक में वरुण मुलाना ने एक शैडो केबिनेट बनाने का सुझाव रखा। सभी विधायकों ने इस पर सहमति जताई। विधायकों का कहना है कि शैडो केबिनेट के ज़रिए तमाम सरकारी महकमों की कारगुजारियों को जनता के सामने अच्छे से एक्सपोज किया जा सकेगा। इससे सरकार की विफलताओं के बारे में जनता को बेहतर तरीके से पता चल पाएगा।

बैठक के बाद नेता प्रतिपक्ष ने प्रेस वार्ता को भी संबोधित किया। इसमें उन्होंने कहा कि आज प्रदेश में सरकार नाम की चीज नजर नहीं आती। क्योंकि हरियाणा बेरोजगारी, अपराध और घोटालों से घिरा हुआ है। प्रदेश में ना आमजन सुरक्षित है और ना ही पुलिस वाले। बर्खास्त पीटीआई के मुद्दे पर भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने दोहराया कि सरकार को इनका रोजगार बचाने के लिए अपनी विधाई शक्तियों का इस्तेमाल करना चाहिए। लेकिन सरकार अगर ऐसा नहीं करती है तो कांग्रेस सरकार बनने पर उन्हें वापिस रोजगार दिया जाएगा।

 Global Newsletter

  • Facebook
  • social-01-512
  • Twitter
  • LinkedIn
  • YouTube