• globalnewsnetin

1 नवंबर से ‘महारा गांव-जगमग गांव’ योजना के अंर्तगत 5485 गांवों को मिलेगी 24 घंटे बिजली-मुख्यमंत्री


कल से पात्र लोगों को परिवार पहचान पत्र के माध्यम से ही मिलेगा विभिन्न योजनाओं का लाभ-मनोहर लाल

- प्रदेश वासियों की कड़ी मेहनत से आज हरियाणा हर क्षेत्र में देश का अग्रणी राज्य बना-मुख्यमंत्री

चंडीगढ़ (अदिति)- हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि कल 1 नवंबर हरियाणा दिवस के अवसर पर ' म्हारा गांव-जगमग गांव’ योजना के अंर्तगत प्रदेश के 5 हजार 485 गांवों को 24 घंटे बिजली की आपूर्ति की जायेगी। शेष बचे लगभग एक हजार गांवों को भी शीघ्र ही इस योजना के तहत शामिल किया जायेगा। इसके अलावा पात्र लोगों को परिवार पहचान पत्र के माध्यम से विभिन्न योजनाओं का लाभ मिलेगा।

मुख्यमंत्री आज पंचकूला के सेक्टर 5 स्थित इन्द्रधनुष आॅडिटोरियम में आजादी का अमृत महोत्सव की श्रंखला में हरियाणा दिवस की पूर्व संध्या पर आयोजित सांस्कृतिक संध्या में मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित कर रहे थे।

इस अवसर पर हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता व अंबाला लोकसभा सांसद श्री रतन लाल कटारिया भी उपस्थित थे। सांस्कृतिक संध्या का शुभारंभ मुख्यमंत्री ने परंपरागत दीप प्रज्जवलित करके किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति देने वाले कलाकारों को 1100-1100 रूपए देने की घोषणा की। इसके अलावा उन्होंने इंडिया गाॅट टैलेंट के विजेताओं की टीम तथा वंडर किड ज्हानवी को 5100-5100 रूपए देने की घोषणा की।

उन्होंने कहा कि आज का कार्यक्रम कई उपलक्षों में आयोजित किया जा रहा है। हम हरियाणा की 56वीं वर्षगांठ मना रहे हैं। आज से 55 साल पहले 1 नवंबर 1966 को हरियाणा का गठन हुआ था। इसके साथ ही आज ही के दिन हमारे देश के पहले गृह मंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती भी है जिन्होंने देश की 562 रियासतों को एकता के सूत्र में पिरोने का कार्य किया।

उन्होंने कहा कि 26 अक्टूबर 2014 को हमारी सरकार का पहला कार्यकाल शुरू हुआ था। उसके बाद 27 अक्टूबर 2019 को सरकार की दूसरी पारी की शुरूआत हुई। सरकार के सात साल का कार्यकाल भी बीती 27 अक्टूबर को पूरा हुआ है और सरकार 8वें वर्ष में प्रवेश कर गई है। उन्होंने 4 नवंबर को दीपावली के शुभ अवसर पर प्रदेश वासियों को बधाई देते हुए कहा कि इन सभी उपलक्षों को मनाने के लिए सरकार द्वारा हर जिला में सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित करने का निर्णय लिया गया है।

श्री मनोहर लाल ने कहा कि 1 नवंबर 1966 को हरियाणा संयुक्त पंजाब से अलग हुआ था। इससे पहले संयुक्त पंजाब में आज के हरियाणा के साथ बहुत भेदभाव किया जाता था । ना उद्योग थे, ना पर्याप्त बिजली और पानी और ना ही खेती के लिए उचित संसाधन उपलब्ध थे। परंतु प्रदेश वासियों की कड़ी मेहनत से आज हरियाणा हर क्षेत्र में देश का अग्रणी राज्य बन गया है। आज हरियाणा उद्योग, कृषि, शिक्षा, खेल, तकनीक आदि क्षेत्रों में देश में बेहतर सेवाएं दे रहा है। इसके अलावा हरियाणा प्रति व्यक्ति आय के मामले में देश के बड़े राज्यों में पहले स्थान पर है। उन्होंने कहा कि उन्हें खुशी है कि हाल ही में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने हरियाणा सरकार की भूरी-भूरी प्रशंसा की है और कहा है कि अन्य राज्यों को भी हरियाणा का अनुसरण करना चाहिए। आज देश के कई राज्यों ने हरियाणा की विभिन योजनाओं को अपने प्रदेशों में लागू किया है और इस सब का श्रेय हरियाणा के लोगों, मजदूरों किसानों, उद्योगपतियों और सैनिकों को जाता है।

उन्होंने कहा कि हरियाणा देश की कुल जनसंख्या का मात्र 2 प्रतिशत है जबकि देश की सेनाओं में हरियाणा का योगदान 10 प्रतिशत है। इसके अलावा केंद्र सरकार की विभिन्न योजनाओं को लागू करने में भी हरियाणा अव्वल स्थान पर है। उन्होंने कहा कि उज्ज्वला योजना के तहत सरकार द्वारा हरियाणा के 9.50 लाख परिवारों को सिलेंडर पहुंचाए गए हैं। इसके अलावा यदि कोई परिवार इससे वंचित रह गया है, उसकी जानकारी देने वाले को भी सरकार द्वारा 500 रुपए इनाम स्वरूप दिए जा रहे हैं। इसी प्रकार हरियाणा में हर ‘घर को नल से जल’ पहुंचाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि ऑनलाइन तबादले, मेरिट के आधार पर नौकरियों भर्तियों की हर तरफ प्रशंसा हो रही है।

उन्होंने कहा कि लोगों में सदाचार की भावना पैदा करने के लिए राज्य सरकार द्वारा प्रदेश में अनेक सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है। उन्होंने कहा कि गीता जयंती के माध्यम से भगवद गीता का संदेश विश्व भर में प्रचारित किया जा रहा है। उन्हांेने कहा कि गत 2 दिन पूर्व यहां अफ्रीकी देशों के आए प्रतिनिधि मंडल ने भी गीता जयंती महोत्सव में शामिल होने की इच्छा व्यक्त की है। इसके अलावा भारत की प्राचीनतम योग विद्या को भी आज विश्व भर में मान्यता मिली है और अनेक देशों ने इसे अपनाया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने जहां भारत की स्वतंत्रता के 75 साल पूरे होने आजादी के अमृत महोत्सव को मनाने की बात कही है वहीं प्रदेशों से अगले 25 सालों का खाका तैयार करने का आहवान भी किया है ताकि देश विश्व गुरु बने।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री के ओएसडी (विशेष प्रचार ) श्री गजेन्द्र फौगाट और उनकी टीम ने हरियाणा की गौरवमयी संस्कृति को प्रदर्शित करते सांस्कृतिक कार्यक्रमों से दर्शकों को हरियाणवी रंग में रंग दिया।

कार्यक्रम का शुभारंभ देशभक्ति गीत-‘वंदे मातरम से हुआ। इसके पश्चात मालविका पंडित व उनकी टीम ने पारंपरिक हरियाणवी ग्रुप डांस (नूर) प्रस्तुत किया, जिसे दर्शकों ने खूब सराहा। सुप्रसिद्ध गायिका शीतल द्वारा प्रस्तुत किए गए देश भक्ति गीत ‘ऐ मेरे वतन के लोगो’ ने उपस्थित लोगों को भाव-विभोर कर दिया। इसके उपरांत इंडिया गाॅट टैलेंट के विजेताओं ने जोगिंदर दिवाकर के नेतृत्व में ऐक्रोबैट के माध्यम से ‘ईमानदार सरकार-मनोहर सरकार’ पर आधारित प्रस्तुति दी, जिसने दर्शकों की खूब वाहवाही बटोरी। कार्यक्रम के दौरान पांच वर्षीय वंडर किड-ज्हानवी बटला ने हरियाणवी गीत ‘सेक्टर आल़ी कोठी में मेरा नहीं लगता जी’ पर डांस प्रस्तुत किया, जिसने दर्शकों को झूमने पर मजबूर कर दिया। इसके उपरांत सूचना, जन संपर्क एवं भाषा विभाग की टीम ने विकास गीत के माध्यम से मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल के नेतृत्व वाली राज्य सरकार द्वारा 7 वर्षों में किए गए अनेक विकास कार्यों को अनोखे अंदाज में प्रस्तुत किया। कार्यक्रम को हरियाणवी संस्कृति से सराबोर करते हुए बालिकाओं ने शास्त्रीय संगीत पर आधारित हरियाणवी गीत ‘बादल उठया री सखी’ पर हरियाणवी लोक नृत्य प्रस्तुत किया। कार्यक्रम के अंत में महावीर गुड्डू ने नाहर सिंह की वीर गाथा गाकर लोगों को देश भक्ति की भावना से भर दिया।

इस अवसर पर नगर निगम के महापोर कुलभूषण गोयल, उपायुक्त विनय प्रताप सिंह, पुलिस आयुक्त सौरभ सिंह, पुलिस उपायुक्त मोहित हांडा, अतिरिक्त उपायुक्त मोहम्मद इमरान रज़ा, एसडीएम पंचकूला ऋचा राठी, एसडीएम कालका ममता शर्मा, बीजेपी जिला अध्यक्ष अजय शर्मा सहित भारी संख्या में दर्शक उपस्थित थे।

0 comments