• globalnewsnetin

136वें स्थापना दिवस पर कुमारी सैलजा ने पार्टी नेताओं व कार्यकर्ताओं को दिया एकजुट होने का संदेश


चंडीगढ़, (अदिति) - भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के 136वें स्थापना दिवस पर हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी द्वारा चंडीगढ़ स्थित हरियाणा कांग्रेस मुख्यालय में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी सैलजा द्वारा ध्वजारोहण करने के साथ कार्यक्रम का शुभारंभ हुआ। ध्वजारोहण के उपरांत हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी सैलजा ने पार्टी नेताओं व कार्यकर्ताओं को संबोधित किया।

अपने संबोधन में कुमारी सैलजा ने कहा कि 28 दिसंबर 1885 को भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के रूप में देश को एक ऐसा राष्ट्रीय संगठन मिला, जिसने न केवल भारतीयों में राष्ट्रीयता की भावना उत्पन्न करने में, बल्कि भारत को स्वतंत्र कराने में अहम भूमिका निभाई। आजादी के बाद नव भारत के निर्माण में कांग्रेस सरकारों ने अहम भूमिका निभाई। देश जब अंग्रेजों के चुंगल से छूटा तो देश के सामने कई संकट खड़े थे। देश के पास संसाधनों का भारी अभाव था। तमाम कठिनाइयों के बावजूद देश को विकास के पथ पर दौड़ाने में कांग्रेस सरकारों ने अहम भूमिका निभाई।कुमारी सैलजा ने कहा कि देश की आजादी के साथ-साथ कांग्रेस पार्टी की स्थापना में हरियाणा प्रदेश का भी विशेष योगदान रहा है। हरियाणा के अंबाला में, जहां से लोकसभा सांसद के रूप में मुझे प्रतिनिधित्व करने का मौका मिला। हरियाणा के अंबाला की धरती ने स्वतंत्रता संग्राम में अपनी बड़ी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। जब 1885 में कांग्रेस पार्टी की स्थापना हुई उस वक्त 72 व्यक्ति शामिल थे। हरियाणावासियों को इस पर गर्व है कि उन 72 लोगों में से हरियाणा प्रदेश के अंबाला के लाला मुरलीधर जी भी थे, जिन्होंने कांग्रेस की स्थापना की थी।

कुमारी सैलजा ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के लिए जनता के हित हमेशा सर्वोपरि रहे हैं। जो आज भाजपा सरकार में कहीं नजर नहीं आ रहा है। आज भाजपा सरकार के राज में देश बड़े ही संकट के दौर से गुजर रहा है। भाजपा सरकार में आज बेरोजगारी चरम पर है। अर्थव्यवस्था ध्वस्त हो चुकी है। दलित व कमजोर वर्ग के हकों पर लगातार कुठाराघात किया जा रहा है। कृषि क्षेत्र को षड्यंत्र रचकर बर्बाद करने का काम किया जा रहा है। इस सरकार के षड्यंत्रकारी कृषि कानूनों के खिलाफ इस कंपकंपाती ठंड में लाखों की संख्या में किसान-मजदूर सड़कों पर बैठे हुए हैं। 40 से ज्यादा किसान अपनी जान गवां चुके हैं। आज सरकार को केवल कुछ पूंजीपतियों के ही हित नजर आ रहे हैं। सरकार के खिलाफ आवाज उठाने वाले व्यक्ति की आवाज कुचलने के प्रयास किए जा रहे हैं। आज हमारा लोकतंत्र और संविधान खतरे में है। भाजपा सिर्फ राष्ट्रवाद का झूठा दिखावा करती है। भाजपा सरकार राष्ट्रवाद को नई परिभाषा दे रही है, जो भाई को भाई से अलग करती हो। सही मायने में राष्ट्रवाद वह है जो सबको एक साथ लेकर चले, सबके लिए एक समान हो।

कुमारी सैलजा ने कहा कि आज जब देश संकट के दौर से गुजर रहा है, उस वक्त कांग्रेस अध्यक्षा श्रीमती सोनिया गांधी जी और हमारे आदरणीय नेता श्री राहुल गांधी जी के नेतृत्व में कांग्रेस पार्टी लगातार भाजपा सरकार द्वारा जनता पर किए जा रहे अन्याय और अत्याचारों के खिलाफ पूरी मजबूती से लड़ रही है। जो जिम्मेदारी आजादी से पहले कांग्रेस नेताओं के कंधों पर थी, वही जिम्मेदारी आज फिर से कांग्रेस नेताओं, कार्यकर्ताओं और जनता के कंधों पर आ गई है। आज कांग्रेस पार्टी के स्थापना दिवस के अवसर पर हम संकल्प करें कि हम राष्ट्रवाद की रक्षा करेंगे, संविधान की रक्षा करेंगे, देश की रक्षा करेंगे, देशवासियों की रक्षा करेंगे।

इस दौरान विधायक प्रदीप चौधरी, विधायक रेणु बाला, विधायक शैली चौधरी, पूर्व उपमुख्यमंत्री चंद्रमोहन बिश्नोई, पूर्व सीपीएस चौधरी रामकिशन गुर्जर, पूर्व मंत्री परमवीर सिंह, पूर्व विधायक लहरी सिंह, पूर्व विधायक जसबीर मलौर, हरियाणा कांग्रेस महासचिव डॉ. अजय चौधरी, हरियाणा कांग्रेस कोषाध्यक्ष एडवोकेट रोहित जैन, इंडियन ओवरसीज कांग्रेस यूके की उपप्रधान गुरमिंद्र कौर, हरियाणा महिला कांग्रेस की कार्यकारी अध्यक्ष सुधा भारद्वाज, हरियाणा कांग्रेस सेवादल की मुख्य संघटक डॉ. पूनम चौहान, एआईसीसी सदस्य प्रताप चौधरी व नरपाल गुर्जर, हरियाणा कांग्रेस मीडिया कोऑर्डिनेटर निलय सैनी, हरियाणा कांग्रेस प्रवक्ता रमेश बामल, बालमुकुंद शर्मा, संजीव भारद्वाज, हरियाणा कांग्रेस कार्यक्रम देखरेख विभाग के इंचार्ज रणधीर राणा, पंचकूला से पार्टी मेयर प्रत्याशी उपिंदर कौर आहलूवालिया, पिछले विधानसभा चुनाव में पार्टी उम्मीदवार डॉ. नवजोत कश्यप पंवार, निर्मल चौहान, वरिष्ठ कांग्रेस नेता विजय बंसल, बिमला सरोहा समेत बड़ी संख्या में पार्टी नेता व कार्यकर्ता मौजूद रहे।


0 comments