• globalnewsnetin

26 जून के दिन को ‘शहीदों को सलाम दिवस’ के रूप में मनाने का फैसला


चंडीगढ़, (गुरप्रीत) - हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महासचिव डॉ अजय चौधरी ने बताया है कि भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस द्वारा गलवान घाटी के वीर शहीद सैनिकों को श्रद्धांजलि देने के लिए 26 जून के दिन को ‘शहीदों को सलाम दिवस’ के रूप में मनाने का फैसला लिया गया है। इसके साथ यह फैसला भी लिया गया है कि पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बेतहाशा वृद्धि के विरोध में केंद्र सरकार के खिलाफ देशभर में धरने प्रदर्शन आयोजित किए जाएंगे। इसी के तहत हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी की अध्यक्ष कुमारी सैलजा के निर्देशानुसार पूरे प्रदेश में 26 जून और 29 जून को यह कार्यक्रम आयोजित जाएंगे। इसी कड़ी में हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी सैलजा 26 जून को नारनौल में आयोजित 'शहीदों को सलाम दिवस' कार्यक्रम में हिस्सा लेंगी और 29 जून को करनाल में आयोजित धरना प्रदर्शन में शामिल होंगी।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी 26 जून को ‘शहीदों को सलाम दिवस’ के रूप में मनाएगी। प्रदेश भर में जिला स्तर पर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी और दूसरे स्वतंत्रता सेनानियों की प्रतिमाओं अथवा ‘शहीद स्मारकों’ के पास बैठकर कांग्रेस के स्थानीय नेता एवं कार्यकर्ता शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे। इस दिन सुबह 11 से दोपहर 12 बजे के बीच मोमबत्ती एवं दीप जलाकर और कुछ समय के लिए मौन रखकर शहीद सैनिकों को श्रद्धांजलि दी जाएगी। इस दौरान किसी भी तरह की नारेबाजी नहीं जाएगी। इसी दिन सोशल मीडिया पर अभियान भी चलाया जाएगा। जिसमें कांग्रेस नेता, कार्यकर्ता और समर्थक अपनी भावना व्यक्त करते हुए सोशल मीडिया पर वीडियो पोस्ट करेंगे।

डॉ अजय चौधरी ने बताया कि 29 जून को कांग्रेस पार्टी द्वारा पेट्रोल और डीजल की कीमतों में लगातार हो रही बेतहाशा बढ़ोतरी के खिलाफ सुबह 10 से दोपहर 12 बजे के बीच प्रदेश भर में जिला मुख्यालयों पर धरना प्रदर्शन आयोजित किए जाएंगे। धरना प्रदर्शनों की समाप्ति के बाद कांग्रेस के नेता संबंधित जिला अधिकारी अथवा उपायुक्त को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपेगे। इसके साथ ही सोशल मीडिया पर भी अभियान चलाया जाएगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के इन कार्यक्रमों में कोरोना संबंधी प्रोटोकॉल और सामाजिक दूरी का पालन किया जाएगा।

3 views0 comments