• globalnewsnetin

30 दिनों के भीतर मिलेगा बिजली का घरेलू कनैक्शन


चंडीगढ़ (अदिति) - हरियाणा के बिजली मंत्री रणजीत सिंह ने कहा कि राज्य में बिजली के घरेलू कनैक्शन 30 दिनों के भीतर दिए जाएंगे। इसके अलावा, बिजली विभाग द्वारा 7500 टयूबवैल कनैक्शन दिए जा चुके हैं और 3500 टयूबवैल कनैक्शन आगामी फरवरी, 2021 तक जारी कर दिए जाएंगे ।

बिजली मंत्री रणजीत सिंह आज यहां पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने बताया कि कुल 17500 कनैक्शन के लिए आवेदन किये गये थे । शेष कनैक्शनों में किसानों को छूट दी गई है। उन्होंने बताया कि अब किसानों को 3 स्टार मोटर बाजार से खरीदने की छूट दी गई है और ये कनैक्शन भी जल्द ही लगा दिए जायेंगे।

बिजली मंत्री ने बताया कि आगामी 31 मार्च, 2021 तक प्रदेश भर के सभी खराब खंभों को ठीक किया जायेगा या बदल दिया जाएगा। इसके अलावा, बिजली विभाग के सभी खंम्भों की निशानदेही (मार्किंग) की जायेगी ताकि मुख्यालय स्तर से इनकी निगरानी की जा सके। उन्होंने बताया कि अब ऐसे सभी खंभों का रिकार्ड भी रखा जाएगा ताकि किसी भी प्रकार का दुरूपयोग न हो सके। इस संबंध में पिछले दिनों बिजली निगमों के वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक की गई जिसमें निर्देश दिए गए कि आगामी 31 मार्च, 2021 तक सभी खराब खंभों को ठीक किया जाए या उन्हें बदला जाए।

उन्होंने बताया कि अब प्रदेश के 5080 गांवों को ‘‘म्हारा गांव-जगमग गांव’’ योजना के तहत 24 घंटे बिजली की आपूर्ति की जा रही है। इस योजना के तहत लगभग 72 प्रतिशत गांवों को कवर कर लिया गया है और इसके अंतर्गत पंचकूला, अंबाला, कुरूक्षेत्र, यमुनानगर, करनाल, गुरूग्राम, फरीदाबाद, सिरसा, रेवाडी व फतेहाबाद जिलों में 24 घंटे बिजली की आपूर्ति की जा रही है। उन्होंने बताया कि शीघ्र ही शेष गांवों को भी इस योजना के तहत 24 घंटे बिजली की आपूर्ति की जाएगी।

बिजली मंत्री ने बताया कि बिजली के लाईन लॉस को 30 प्रतिशत से घटाकर 17 प्रतिशत तक लाया गया है और इसे और कम करने की दिशा में सकारात्मक कदम उठाये गये हैं। उनका मानना है कि आने वाले समय में जल्द ही 3 से 4 प्रतिशत तक लाईन लोसिस को कम किया जाएगा।

श्री रणजीत सिंह ने बताया कि विभाग की कार्यक्षमता में वृद्धि लाने के लिए जल्द ही 200 एसडीओ की भर्ती की जायेगी। इसके अलावा, उन्होंने बताया कि गुरूग्राम, फरीदाबाद, पंचकूला व करनाल में स्मार्ट मीटर लगाने के लिए पायलट योजना संचालित हैं, जिसे बाद में राज्य के अन्य शहरों में लागू किया जाएगा। उन्होंने बताया कि स्मार्ट मीटर के लगने से पारदर्शिता आएगी। अभी 10 लाख स्मार्ट मीटरों का आर्डर दिया गया है और इन मीटरों के लगने के उपरांत 20 लाख और मीटर मंगवाए जाएंगे।

बिजली की शिकायतों के निवारण के संबंध में जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि फील्ड के अधिकारियों को उपभोक्ताओं की शिकायतों का समय रहते निवारण करने संबंधी दिशानिर्देश दिए गए हैं। इसी प्रकार, फीडरों के रख-रखाव, ब्रेकडाउन की स्थिति में समय पर मरम्मत करने के भी दिशानिर्देश दिए गए हैं ताकि उपभोक्ताओं को शीघ्र-अति-शीध्र बिजली की आपूर्ति उपलब्ध करवाई जा सके। उन्होंने बताया कि बिजली विभाग नए साल से बिजली उपभोक्ताओं को अच्छी व बेहतरीन सेवाएं देने के पूरे प्रयास करेगा।

पत्रकारों से बातचीत के दौरान उन्होंने नए साल, 2021 की उन्हें बधाई व शुभकामनाएं भी दी और कहा कि नया साल देश व प्रदेश की जनता के लिए तरक्की, समृद्धि के साथ-साथ उनके लिए अच्छा रहे।


1 view0 comments