• globalnewsnetin

8 व 9 सितंबर को किया जाएगा किसान मेले का आयोजन


चंडीगढ़ (अदिति) - चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय, हिसार के कुलपति प्रोफेसर बी.आर. काम्बोज ने बताया कि आगामी 8 व 9 सितंबर को ऑफलाइन माध्यम से विश्वविद्यालय के गेट नंबर तीन के सामने लुदास रोड पर किसान मेले का आयोजन किया जाएगा। मेले का मुख्य विषय ‘जल संरक्षण’ होगा। मेले के शुभारंभ अवसर पर भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के महानिदेशक डॉ. त्रिलोचन महापात्र मुख्यातिथि होंगे।

उन्होंने बताया कि दिनों-दिन गिरते भूमिगत जलस्तर के संरक्षण के लिए केंद्र व राज्य सरकार निरंतर प्रयासरत है। किसानों को आधुनिक तकनीकों के माध्यम से जल संरक्षण के प्रति जागरूक किया जा रहा है। इसी के चलते इस बार किसान मेले का जल संरक्षण थीम रखा गया है ताकि किसानों को जल की महत्ता से अवगत करवाते हुए जल संरक्षण की आधुनिक तकनीकों के बारे में बताया जा सके। उन्होंने बताया कि कोरोना महामारी के चलते लगातार पिछले दो सालों से ऑनलाइन माध्यम से किसान मेले का आयोजन किया गया था। इस बार किसानों की मांग को संज्ञान में लेते हुए एवं केंद्र व राज्य सरकार की कोरोना महामारी को लेकर जारी हिदायतों का पालन करते हुए मेले को परंपरागत तरीके से ऑफलाइन आयोजित करने का फैसला लिया गया है। मेले में देश के विभिन्न राज्यों के किसान शामिल होंगे।

उन्होंने बताया कि मेले के दौरान किसान मिट्टी पानी की जांच के अलावा मौसम पूर्वानुमान संबंधी पंजीकरण भी करवा सकेंगे ताकि किसानों को अपनी फसल के बेहतर उत्पादन में सहायक हो सके। मेले के लिए वैज्ञानिकों की टीम का पैनल बनाया गया है, जो किसानों की हर समस्या का समाधान बताएंगे।

0 comments