top of page
  • globalnewsnetin

9 जुलाई को दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल व पंजाब के सीएम भगवंत मान पंचकूला से करेंगे आंदोलन की शुरुआत


पंचकूला: आम आदमी पार्टी के प्रदेश प्रचार समिति के अध्यक्ष डॉ. अशोक तंवर ने शुक्रवार को पंचकूला के सेक्टर-25 में प्रेस वार्ता की। उन्होंने प्रदेश में बिजली संकट और विभिन्न मुद्दों को लेकर खट्टर सरकार को घेरा। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी नौ जुलाई को बिजली आंदोलन शुरू कर रही है। आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और पंजाब के सीएम भगवंत मान पंचकूला के इंद्रधनुष ऑडिटोरियम से बिजली आंदोलन की शुरुआत करेंगे। इस आंदोलन को हरियाणा के हर गांव और हर घर तक लेकर जाएंगे।


उन्होंने कहा कि बिजली मंत्री के गृह जिले सिरसा समेत कई जिलों के अस्पतालों कई कई घंटे बिजली नहीं रहती। लोग जून के महीने में बिजली न आने की वजह से त्रस्त रहे और भारी परेशानी उठानी पड़ी। जनता में भी बिजली के मुद्दे को लेकर रोष है। खट्टर सरकार के नौ साल में बिजली के बिल तो फूल हैं लेकिन बती गुल है। ज्यादातर इंडस्ट्री जनरेटरों पर चल रही है। स्मार्ट मीटर के नाम पर प्रदेश के लोगों को परेशान किया जा रहा है।


उन्होंने कहा कि धान की बुआई के सीजन में 9 से 10 घंटे तक पानी की जरुरत होती है, लेकिन दो तीन घंटे भी किसान को बिजली नहीं मिल पाती। जिससे फसल प्रभावित हो रही है। वहीं पंजाब सरकार 10 से 12 घंटे बिजली किसानों को दे रही है। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी प्रदेश में मुख्य विपक्ष के रूप में जनता की आवाज उठा रही है, जबकि कांग्रेस खामोश बैठी है।


उन्होंने खट्टर सरकार पर कटाक्ष करते हुए कहा कि नौ साल के बाद भी ढाणियों में बिजली नहीं पहुंची। 2013-14 में परमाणु संयंत्र का नींव पत्थर रखने के नौ साल बीतने के बाद भी उसकी कोई चर्चा नहीं है। जबकि यमुनानगर में लगने वाले पावर प्लांट को झारखंड में लगाने की तैयारी कर रही है। आम आदमी पार्टी प्रदेश में बिजली संकट को लेकर बड़े स्तर पर आंदोलन शुरू करेंगी। और लोगों की आवाज को मजबूती से उठाएगी।


उन्होंने बताया कि दिल्ली और पंजाब में 87 प्रतिशत से ज्यादा घरों को बिजली बिल जीरो आता है और हरियाणा में बिजली समस्या जस की तस बनी हुई है। न खट्टर सरकार ने और न ही पहले हुड्डा सरकार ने इस ओर ध्यान दिया। हरियाणा में आम आदमी पार्टी की सरकार आने पर दिल्ली और पंजाब की तर्ज पर 24 घंटे बिजली फ्री दी जाएगी।


प्रदेश संयुक्त सचिव योगेश्वर शर्मा ने कहा की पंचकूला जहां प्रदेश की आधी सरकार, सारे अफसर और सभी मुख्य विभागों के प्रमुख कार्यालय हैं, ऐसे शहर में भी बिजली की हालत खस्ता है। प्रतिदिन घंटों के कट लग रहे हैं एवं जगह-जगह रोज ट्रांसफार्मर सड़ने की खबरें सामने आती हैं। सरकार पंचकूला में भी बिजली की आपूर्ति पूरी एवं ढंग से नहीं कर पा रही है। पंचकूला के गांव में तो हालत और भी बदतर हैं। जहां हरियाणा सरकार मोरनी को पर्यटन के लिए विकसित कर रही है वहां पर भी पूरा पूरा दिन बिजली की आपूर्ति नहीं होती । ऐसी ही हालत कालका और पिंजौर के क्षेत्रों में है।


इस मौके पर जिलाध्यक्ष रणजीत उप्पल, कैप्टन अमरजीत सिंह जिला अध्यक्ष,एक्स सर्विसमैन विंग पंचकूला, गुरचरण सिंह जिला अध्यक्ष ओबीसी विंग पंचकूला, मक्खन सिंह जिला उपाध्यक्ष ओबीसी विंग, पवन वालिया, नरेश मग्गू, आर्य सिंह, मुकेश मलिक जिला संयुक्त सचिव व्यापार और अमन अग्रवाल मौजूद रहे।



Kommentare


bottom of page