• globalnewsnetin

BJP-JJP government make promises and forget - Selja, वायदे करके भूलने वाली है यह गठबंधन सरकार: सैलजा


Truth of hollow claims of BJP-JJP is clear from latest figures of NITI Aayog

Chandigarh, (Aditi) - President, Haryana Pradesh Congress Committee Kumari Selja said that the present BJP-JJP government in the state has become a government that has not fulfilled its promises. They did not have any experience of running the government. On the basis of promises, they formed the government and now they have forgotten all those promises. The truth of the government's hollow claims has now become clear from the figures released by the NITI Aayog, she added.

Kumari Selja said that when the BJP-JJP government was formed in the state, it had come before the people with many promises which mainly included education, industry, unemployment, providing clean water to the people, cleanliness and curbing crimes, but the government has been a complete failure on all these issues. According to the data released by NITI Aayog, clean water has not been provided to all in rural areas and crime has increased manifold. The state has also slipped down in industry, innovation and infrastructure. Economic growth has slowed down due to rising unemployment and the standard of education has also fallen.

Kumari Selja said that employment in manufacturing units has decreased. Where it was 19.5 percent in the year 2019, it has come down to 17.60 percent in the year 2020. At the same time, the unemployment rate in the state has increased compared to the year 2019. According to the data, where the unemployment rate was 8.4 percent in the year 2019, it has increased to 9.81 percent in 2020. The government has failed to bring children to school and the dropout of children has increased from 12.16 percent to 14.39 percent. Instead of building new schools, the government is bent on closing the old schools. The shortage of teachers is clearly visible in the schools, she added.

Kumari Selja said that crime has increased so much in Haryana that today businessmen, women and common man are afraid to even leave their houses. The spirits of criminals are high in the state and the government is sitting idle.

Kumari Selja said that in the terms of unemployment, the government has pushed the state far back. Lakhs of youth of the state are sitting unemployed and they are not being given any allowance by the government. She said that instead of coming up with new industries during the tenure of the BJP-JJP government, the industries established under the rule of the Congress government are closing due to the failures of this government.

Kumari Selja said that earlier the government had left the farmers on their own and they sold their mustard crop to private companies. The farmers have been agitating for the last six months for their genuine demands, but they are not being heard. Farmers are upset due to stoppage of wheat procurement. The wheat crop of the farmers lying in the grain market is not being procured. The government's claim of buying every single grain of the crop has proved to be false. So why the government is asking farmers that where and to whom did they sell their mustard crop, she said.

ताजा आंकड़ों से भाजपा-जजपा के खोखले दावों की सच्चाई हुई जगजाहिर

चंडीगढ़, (अदिति) :- हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी सैलजा ने कहा कि प्रदेश की मौजूदा भाजपा-जजपा गठबंधन सरकार वायदे करके मुकरने वाली सरकार बनकर रह गई है। इनके पास सरकार चलाने का अनुभव कतई नहीं था और वायदों के दम पर सरकार बनाकर अब सभी वायदे भुला चुकी है। नीति आयोग द्वारा जारी किए गए आंकड़ों से सरकार के खोखले दावों की सच्चाई अब जगजाहिर हो चुकी है।

कुमारी सैलजा ने कहा कि प्रदेश में जब भाजपा-जजपा सरकार का गठन हुआ तो यह बहुत से वायदे लेकर प्रदेश की जनता के सामने आए थे। जिसमें मुख्य रूप से शिक्षा, उद्योग, बेरोजगारी, लोगों को स्वच्छ पानी मुहैया करवाना, स्वच्छता व अपराधों पर नकेल कसना शामिल था। लेकिन इन सभी मुद्दों पर गठबंधन सरकार पूरी तरह से फेल होकर रह गई है। नीति आयोग द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार ग्रामीण क्षेत्रों में सभी को स्वच्छ पानी मुहैया नहीं कराया जा सका है। अपराध में बढ़ोतरी हुई है। इंडस्ट्री, इनोवेशन व इंफ्रास्ट्रक्चर में भी प्रदेश नीचे खिसक गया है। बेरोजगारी बढऩे से आर्थिक वृद्धि कमजोर पड़ी है। शिक्षा का स्तर भी गिर गया है।

कुमारी सैलजा ने कहा कि मैन्युफैक्चरिंग यूनिट्स में रोजगार घट गया है। यह वर्ष 2019 में जहां 19.5 प्रतिशत था, वह वर्ष 2020 में 17.60 प्रतिशत रह गया है। वहीं प्रदेश में बेरोजगारी दर वर्ष 2019 के मुकाबले बढ़ गई है। आंकड़ों के अनुसार वर्ष 2019 में जहां बेरोजगारी की दर 8.4 प्रतिशत थी, वहीं 2020 में यह 9.81 प्रतिशत हो गई है। बच्चों को स्कूल तक पहुंचाने में सरकार विफल रही है और प्रदेश में बच्चों का ड्रापआऊट बढ़ गया है और 12.16 प्रतिशत से बढ़कर 14.39 प्रतिशत हो गया है। नए स्कूल बनाने की बजाए सरकार पुराने स्कूलों को बंद करने पर तुली है। स्कूलों में अध्यापकों की कमी साफ देखी जा सकती है।

कुमारी सैलजा ने कहा कि हरियाणा में क्राइम तो इतना बढ़ गया है कि आज व्यापारी, महिला व आम आदमी घर से निकलने से भी डरता है। प्रदेश में अपराधियों के हौसले बुलंद हैं और सरकार हाथ पर हाथ धरे बैठी है।

कुमारी सैलजा ने कहा कि बेरोजगारी के मामले में तो सरकार ने प्रदेश को बहुत पीछे धकेल दिया है। प्रदेश के लाखों युवा बेरोजगार बैठे हैं और उनको सरकार की ओर से कोई भत्ता भी नहीं दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि गठबंधन सरकार के कार्यकाल में नए उद्योग धंधे आना तो दूर कांग्रेस सरकार के राज में स्थापित हुए उद्योग-धंधे इस सरकार की नाकामियों के कारण बंद हो रहे हैं।

कुमारी सैलजा ने कहा कि पहले सरकार ने किसानों को अपने हाल पर छोड़ दिया और किसानों ने अपनी सरसों की फसल निजी हाथों में बेच दी। किसान पिछले छह महीने से अपनी मांगों को लेकर आंदोलन कर रहे हैं, उनकी कोई सुनवाई नहीं हो रही है। गेहूं की खरीद बंद होने से किसान परेशान हैं। किसानों की अनाज मंडी में पड़ी गेहूं की फसल की खरीद नहीं हो रही है। सरकार का फसल का एक-एक दाना खरीदने का दावा झूठा साबित हुआ है। तो अब सरकार किसानों से किस मुंह से पूछ रही है कि उन्होंने सरसों की फसल कहां और किसको बेची।


0 comments

Recent Posts

See All

Kaushal is Chief Secretary Haryana

Chandigarh (Aditi) Senior most IAS officer Mr Sanjeev Kaushal has been appointed chief secretary of the state of Haryana