उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने गुरुग्राम में फहराया तिरंगा

गुरुग्राम (ग्लोबल न्यूज़) 74वें स्वतंत्रता दिवस पर गुरुग्राम में आयोजित कार्यक्रम में हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने  ध्वजारोहण किया और देश के शहीदों के बलिदानो का स्मरण करवाते हुए उन्हें नमन किया। उपमुख्यमंत्री अपने संदेश में कहा कि हमारे स्वतंत्रता सेनानियों और शहीदों के बलिदानों को कभी भुलाया नहीं जा सकता। उनहोंने कहा कि  चाहे 1962 का भारत-चीन युद्ध हो या 1965 और 1971 के पाकिस्तान के साथ हुए युद्ध हों अथवा कारगिल संघर्ष या अब भी सीमा पर जब-जब देश की सुरक्षा की बात आई है हरियाणा के जवानों ने वीरता के साथ भारत मां की सेवा में अपने प्राणों का सर्वोच्च बलिदान दिया है। उन्होंने इस जिला स्तरीय समारोह में पहुंचने से पहले गुरूग्राम के सिविल लाइन्स स्थित युद्ध स्मारक पर पुष्प चक्र चढ़ाकर देश के सभी जाने-अनजाने शहीदों को श्रद्धांजलि दी और उनकी शहादत को नमन किया। - गरीब, किसान, कमेरे वर्ग को और मजबूत करना सरकार का लक्ष्य उपमुख्यमंत्री का संबोधन कमेरे वर्ग, ग्राम पंचायतों, किसानों, युवाओं तथा महिला सशक्तिकरण पर ज्यादा केन्द्रित रहा। वर्तमान सरकार की उपलब्धियों का उल्लेख करते हुए डिप्टी सीएम ने कहा कि हमारी सरकार का लक्ष्य कमेरे वर्ग को और मजबूत करना है। इसके लिए केन्द्र और प्रदेश की सरकार निरंतर प्रयासरत है। उन्होंने कहा कि दोनों सरकारों ने जो कदम उठाएं हैं, उससे देश आत्मनिर्भर बनने की दिशा में अग्रसर है। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि जातिवाद, क्षेत्रवाद और भाई-भतीजावाद से उपर उठकर किसान और मजदूर के कल्याण, युवा के उत्थान, महिला के सम्मान के लिए काम करते हुए राज्य सरकार प्रदेश को नई उंचाईयों पर ले जाने के लिए प्रयासरत है। उन्होंने कहा कि ईज ऑफ लिविंग को प्रदेश में मॉनीटर किया जा रहा है और नए उद्योगों को प्रदेश में लाने के लिए प्रयास किए जा रहे हैं। - दुष्यंत चौटाला ने जननायक चौ. देवीलाल के सुनाये किस्से दुष्यंत चौटाला ने अपने परदादा पूर्व उपप्रधानमंत्री स्व. चौधरी देवीलाल को याद करते हुए कहा कि वे कहा करते थे कि ‘लोकराज लोकलाज से चलता है‘ और उसके बाद ऐतिहासिक तौर पर हरियाणा और देश में जो भी सरकारें रही हैं उनका यह उद्देश्य और लक्ष्य रहा है कि कैसे सरकारों को जनता की ओर समर्पित किया जाए। उन्होंने कहा कि  चौधरी देवीलाल ने हर बच्चे को स्कूल जाने को प्रेरित करने के लिए हर स्कूल जाने वाले बच्चे को एक रूपया देने की योजना शुरू की थी। डिप्टी सीएम ने कहा कि आज उसी योजना का एक रूप सर्व शिक्षा अभियान के तौर पर लागू है। उन्होंने कहा कि इसी प्रकार जननायक चौधरी देवीलाल ने 100 रूपये मासिक से बुढ़ापा पेंशन शुरू की थी, जिसके बाद में दूसरे प्रदेशों ने भी इसे अपनाया। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि अब यह कहते हुए खुशी है कि हरियाणा प्रदेश सबसे ज्यादा 2250 रूपये मासिक बुढ़ापा पेंशन देकर बुजुर्गों को सम्मान दे रही है। - तेजी से डिजिटाइजेशन की ओर बढ़ रहा हरियाणा... डिजिटाइजेशन का उल्लेख करते हुए उपमुख्यमंत्री ने कहा कि आने वाले समय में हरियाणा देश के उन अग्रणी राज्यों में होगा जहां पर ई-स्टांप प्रणाली की तर्ज पर ई-रजिस्ट्रेशन भी लागू होगा। उन्होंने कहा कि इस दिशा में कार्य किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि प्रदेश की सभी 127 तहसीलों तथा उप तहसीलों में वेब हैलरिस के माध्यम से पंजीकरण की प्रणाली को सरल बनाने के लिए सर्वे जनरल ऑफ इंडिया के सहयोग से एक-एक गांव का सर्वे करवाया जा रहा है और इस प्रणाली की शुरूआत करनाल जिला के गांव सिरसी से की गई थी जो हरियाणा ही नहीं बल्कि देश का पहला लाल डोरा मुक्त गांव बना। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि इस प्रणाली की प्रधानमंत्री ने भी सराहना की है। उन्होंने कहा कि आगामी 2 अक्टूबर तक हरियाणा के हर जिला में 11-11 गांवो को लाल डोरा मुक्त किया जाएगा। उन्होंने कहा कि अगले वर्ष में प्रदेश के सभी 6800 ग्राम पंचायतों को डिजिटलाइज करके एक-एक गांव का सर्वे पूरा करने का लक्ष्य है। उन्होंने बताया कि गुरूग्राम का सर्वे करवाकर डिजिटल रिकॉर्ड तैयार करवा लिया गया है। इसके अलावा सरकार जींद, करनाल तथा सोहना का भी एक महीने में डिजीटल रिकॉर्ड तैयार कर लेगी। - किसानों के हित में निरंतर सरकार कर रही कार्य किसानों के लिए वर्तमान राज्य सरकार द्वारा करवाए गए कार्यों का उल्लेख करते हुए उपमुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा में कुल 44 लाख हैक्टेयर भूमि में से लगभग 36 लाख हैक्टेयर खेती के लायक है। उन्होंने कहा कि हरियाणा के किसान इसमें 200 प्रतिशत उपज अपने खेत से लेते हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार अब इसे और भी बढ़ाने की दिशा में काम कर रही है। इसके लिए हमें परंपरागत खेती की बजाय फल और सब्जियों का उत्पादन करना होगा। दुष्यंत चौटाला ने यह भी बताया कि प्रारंभिक तौर पर 4 सब्जियों को भावांतर भरपाई योजना में लिया गया था, अब उसका दायरा बढ़ाते हुए 11 फल और सब्जियों को इस योजना में शामिल किया गया है। साथ ही उपमुख्यमंत्री ने प्रदेश में 200 फल एवं सब्जी कलस्टर बनाए गए हैं जिसमें किसान एफपीओ के माध्यम से अपनी फसल बेच पाएंगे। उन्होंने यह भी कहा कि इस बार कोरोना की वजह से गेंहू खरीद का कार्य चुनौतीपूर्ण था  लेकिन 477 खरीद केन्द्रों की बजाय 1882 केन्द्र बनाकर 27 दिनों मे किसान का एक-एक दाना खरीदा गया। इसी प्रकार आगामी जीरी की फसल की खरीद के लिए पहले से ढाई से 3 गुना ज्यादा खरीद केन्द्र बनाकर किसानों को राहत पहुंचाएंगे। - कोरोना वॉरियर्स को सलाम कोरोना काल में चिकित्सकों, नर्सों, पुलिसकर्मियों आदि कोरोना वॉरियर्स द्वारा किए गए सराहनीय कार्यों के लिए उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने उन्हें सलाम करते हुए उनका धन्यवाद किया। समारोह में गुरूग्राम जिला में बेहतर काम करने वाले 42 कोरोना योद्धाओं को भी सम्मानित किया गया। वहीं उपमुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार किया जा रहा है और 400 मोबाइल डिस्पेंसरी शुरू की गई है। यही नहीं, सिरसा, यमुनानगर तथा कैथल जिले में तीन नए मेडिकल कॉलेज खोले जाएंगे। उन्होंने ये भी बताया कि प्रदेश में 11 सरकारी तथा सहायता प्राप्त मेडिकल कॉलेज में केवल कोरोना के मरीजों के लिए अलग से वार्ड अथवा ब्लॉक बनाए गए हैं। वहीं  प्रदेश में 40 अस्पतालों को कोविड अस्पताल बनाया गया है। - बहन-बेटियों का सम्मान... समारोह में प्रदेशभर से पंचायती राज संस्थाओं में विभिन्न पदों पर रहते हुए सराहनीय कार्य करने वाली 100 महिला अचीवर्स को हीरो मोटो कॉर्प की तरफ से एक-एक स्कूटी भेंटकर सम्मानित किया गया। उपमुख्यमंत्री ने स्कूटी भेंट कर महिलाओं का मनोबल बढ़ाने के लिए कंपनी का आभार जताया। उन्होंने इन महिलाओं के साथ समूह चित्र भी करवाया और स्कूटी पर बैठाकर इनके समूह को फलैग ऑफ भी किया। उन्होंने बताया कि हमारी सरकार का लक्ष्य है कि आने वाले समय में पंचायती राज संस्थाओं मे महिलाओं को 50 प्रतिशत हिस्सेदारी देकर महिला सशक्तिकरण को नई उर्जा और ताकत देना है। इस अवसर पर उपमुख्यमंत्री ने भव्य परेड की सलामी ली जिसका नेतृत्व एसीपी सदर अमन यादव कर रहे थे। परेड के मास्ट पास्ट में 7 टुकड़ियों ने भाग लिया जिसमें हरियाणा पुलिस की पीएसआई सननजीत के नेतृत्व वाली टुकड़ी को पहला स्थान मिला। एनसीसी सीनियर विंग को द्वितीय तथा ट्रेफिक पुलिस की टुकड़ी को तीसरा स्थान मिला। मार्च पास्ट में धुन आरटीसी भौंडसी के बैंड द्वारा दी गई थी। इस अवसर पर मेयर मधु आजाद, पटौदी के विधायक सत्यप्रकाश जरावता, सोहना के विधायक संजय सिंह, गुरूग्राम के विधायक सुधीर सिंगला, विकास एवं पंचायत विभाग के प्रधान सचिव सुधीर राजपाल, निदेशक सुशील सारवान, भाजपा जिला अध्यक्ष भूपेन्द्र चैहान, उपाध्यक्ष हरविन्द कोहली, जजपा के जिला अध्यक्ष सुबे सिंह बोहरा, विद्या जन सेवा समिति से रविन्द्र पन्नू, अधिवक्ता अतर सिंह संधू, मंडल आयुक्त अशोक सांगवान, उपायुक्त अमित खत्री, पुलिस आयुक्त के के राव, नगर निगम आयुक्त विनय प्रताप सिंह, हरियाणा डेयरी विकास प्रसंघ के पूर्व चेयरमैन जी एल शर्मा सहित कई गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

 Global Newsletter

  • Facebook
  • social-01-512
  • Twitter
  • LinkedIn
  • YouTube