एस.ए.एस. नगर को अगले साल फरवरी में मिलेगी नहरी पानी की सप्लाई

60 करोड़ रुपए के प्रोजैक्ट का काम बड़ौदा की कंपनी को सौंपा; कोविड-19 की बन्दिशों के बावजूद 20 प्रतिशत काम मुकम्मल पहले फेज़ में सैक्टर-66 तक बिछाई जायेगी पानी की पाईप लाइन चंडीगढ़, (अदिति ): भूजल को बचाने और सतही पानी के सभ्य प्रयोग को यकीनी बनाने के लिए आवास निर्माण और शहरी विकास विभाग, पंजाब ने एस.ए.एस. नगर (मोहाली) निवासियों को नहरी पानी की सप्लाई देने का फैसला किया है। आवास निर्माण और शहरी विकास विभाग के एक प्रवक्ता ने बताया कि गमाडा की तरफ से मोहाली में नहरी पानी की सप्लाई के लिए पाइपलाइन बिछाई जा रही है और यह कार्य बड़ौदा आधारित एम/एस सपन्नपाईप एंड कंपनी को 60 करोड़ रुपए में सौंपा गया है। पानी की उपलब्धता को ध्यान में रखते हुए फेज़-1 में यह पाइपलाइन सैक्टर-66 तक बिछाई जायेगी। इसके बाद फेज़-2 में इस पाइपलाइन का एरोसिटी और आई.टी. सीटी तक विस्तार किया जायेगा। उन्होंने बताया कि फेज़-1 का काम फरवरी 2021 तक मुकम्मल हो जायेगा और कोविड-19 से बचाव के लिए सरकार की तरफ से लगाईं गई पाबंदियों के बावजूद कंपनी ने 20 प्रतिशत काम मुकम्मल कर लिया है। प्रवक्ता ने बताया कि इस कार्य के मुकम्मल होने पर मोहाली को 20 एमजीडी और पानी मिलेगा, जो इस शहर निवासियों की पानी सम्बन्धित जरूरतों की पूर्ति की तरफ बड़ा कदम है। यह पाइपलाइन सिंहपुर वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट से शुरू होगी। बताने योग्य है कि इस प्रोजैक्ट का काम 5 फरवरी, 2020 को अलॉट किया गया था परन्तु कोविड-19 से बचाव के लिए लगाए गए लॉकडाउन के कारण यह काम मई महीने में शुरू हुआ है। फेज़-1 में 17 किलोमीटर और फेज़-2 में 20 किलोमीटर पाइपलाइन बिछाई जायेगी।

 Global Newsletter

  • Facebook
  • social-01-512
  • Twitter
  • LinkedIn
  • YouTube