कांग्रेस ने किसानों को हमेशा बरगलाने का काम किया है: धनखड़

भिवानी, (ग्लोबल न्यूज़)   भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़ ने कहा है कि विपक्षी नेता अपनी राजनीति बचाने के लिए किसानों के नाम पर झूठ की राजनीति कर रहे हैं। कांग्रेस ने हमेशा किसानों के नाम पर झूठ बोला है और किसानों को बरगलाने का काम किया। यदि कांग्रेस सच में किसानों की हितैषी होती है तो छह साल  तक स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट को दबाए नहीं बैठती, बल्कि उसे लागू करती। उन्होंने कहा कि तीनों कृषि विधेयक किसानों के हित में हैं। किसानों को उनकी फसल अपनी मर्जी से देश में कहीं भी  बेचने के लिए द्वार खोले गए हैं। उन्होंने कहा कि मंडी भी चलेंगी और एमएसपी पर खरीद भी होती रहेगी, केवल कांग्रेस की झूठ की राजनीति बंद होगी।  प्रदेश का किसान कांग्रेसी नेताओं के झांसे में आने वाला नहीं है। श्री धनखड़ शुक्रवार को शहर में भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष ताराचंद अग्रवाल के आवास पर पत्रकारों को संबोधित कर रहे थे।  उन्होंने कहा कि सरकार किसान की फसल का एक-एक दाना खरीदेगी। कपास, बाजरा व मूंग की खरीद शुरु हो चुकी हैं। सरकार द्वारा पारदर्शी ढंग से खरीद के लिए समुचित प्रबंध किए गए हैं। खरीद में कालाबाजारी बिल्कुल नहीं होने दी जाएगी। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष श्री धनखड़ ने कहा कि भाजपा किसानों के हित में नीतियां लागू कर रही है। फसल बीमा योजना के तहत किसानों को 3600 करोड़ रुपए दिए गए हैं, जो किए एक रिकार्ड है। इसी प्रकार से आपदा के तहत फसल खराब होने पर किसानों को 2700 करोड़ रुपए मुआवजा दिया गया है। उन्होंने कहा कि भाजपा किसानों के खातों में सीधे रुपए दे रही है, जो कि विपक्ष को हजम नहीं हो रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की राजनीतिक जमीन खिसक चुकी है। उन्होंने कहा कि प्रदेश का जागरूक किसान विपक्ष के बहकावे में आने वाला नहीं है। उन्होंने कहा कि सरकार प्रदेश का शान्ति पूर्ण माहौल खराब करने की किसी को भी इजाजत नही देगी। श्री धनखड़ ने कहा कि किसान हित में आए गए तीनों विधेयकों की हर तरफ सराहना हो रही है, जो विपक्ष को रास नहीं आ रहा है। उन्होंने कहा कि पूर्व की सरकारों ने किसानों की आंखों में धूल झोंकने का काम किया है और किसानों को बरगलाकर उनके वोट हासिल किए हैं। उन्होंने कहा कि तीनों विधेयक देश व प्रदेश के किसान को खुशहाल व उन्नत करने का काम करेंगे। किसान अपनी मर्जी से अपनी फसल बेच सकेगा। किसान पर किसी प्रकार की कोई पाबंदी नहीं होगी। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष श्री धनखड़ ने कहा कि अध्यादेशों में किसानों को अपनी फसल बिक्री के लिए छूट दी गई है और किसी भी प्रकार से एमएसपी कम नहीं होगा।  रबी की फसल का एम एस पी बढ़ाकर घोषित किया है।                 धनखड़ ने कहा की  अब वन नेशन वन मार्केट की तर्ज पर किसानों को अपनी ऊपज किसी भी राज्य में ले जाकर बेचने की आजादी होगी। इससे कृषि उत्पाद का बाधा मुक्त अंतर-राज्य व्यापार संभव हो सकेगा। किसानों को अपना उत्पाद मंडी तक ले जाने की बाध्यता नहीं होगी। इस फैसले से उत्पादन, भंडारण, ढुलाई और वितरण करने की आजादी से व्यापक स्तर पर उत्पादन करना संभव होगा। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार ने मूल्य आश्वासन पर किसान (बंदोबस्ती और सुरक्षा) समझौता और कृषि सेवा अध्यादेश 2020 को भी स्वीकृति दे दी है। यह विधेयक किसानों को शोषण के भय के बिना समानता के आधार पर सामानों की खरीद बिक्री की आजादी देगा। कृषि उत्पादों के लिए एक देश एक बाजार की दिशा में बड़ा कदम उठाया गया है। कृषि ऊपज वाणिज्य एवं व्यापार (संवर्धन एवं सुविधा) विधेयक 2020 किसानों को उनकी ऊपज देश में किसी भी व्यक्ति या संस्था को बेचने की ईजाजत देता है। अब यह सचमुच वन नेशन वन मार्केट होगा। ये विधेयक  किसानों को अपना उत्पाद देश भर में कहीं भी बेचने का अवसर देते हैं। उन्होंने कहा कि यह किसानों की आर्थिक आज़ादी के लिए उठाया गया सही कदम है। किसान के उत्पाद बेचने के लिये चार विकल्प दिए गए हैं। किसान अपना माल बेचें, उत्पादक संघ बनाकर अपना माल बेचें, किसी व्यवसायी से अनुबंध करके अपना माल बेचें अथवा स्थानीय मंडी में समर्थन मूल्य पर अपना माल बेचें। अनुबंध खेती में ई- रजिस्ट्री में सारा लेखा-जोखा होगा। अनुबंध करने वाला व्यवसायी अपनी शर्तों से भाग नहीं सकेगा। कोई भी व्यवसायी अनुबंध खेती की आड़ में किसानों की ज़मीन नहीं ले सकेगा। कोई भी व्यवसायी एक बार अधिक धन देकर उसके चुकाने की एवज़ में किसानों से बंधुआ खेती भी नहीं करा सकेगा। इतना ही नहीं कोई व्यवसायी खेत में यदि ट्यूबवेल व पोली हाउस जैसा ढांचा खड़ा कराता है और यदि वह अनुबंध के बाद निश्चित समय के भीतर उसे नहीं हटाता है, तो किसान उसका मालिक हो जाएगा। इसके अलावा  किसानों को नवीनतम खेती की जानकारी मिल सकेगी । इन विधेयकों में आवश्यक वस्तु अधिनियम में भी छूट दी है। पत्रकार वार्ता से पहले एक रिसोर्ट में प्रदेश अध्यक्ष ओम प्रकाश धनखड़ का  जिला ईकाई द्वारा भव्य अभिनंदन किया गया। भाजपा अध्यक्ष ने कार्यकर्ताओं से कहा की देश के लोकप्रिय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने   कृषि व किसान हित में विधेयक पारित करवाएं है। यह बात हर किसान तक पहुंचाना और विस्तार से इनके बारे में जानकारी देना भाजपा कार्यकर्ता का दायित्व है। भाजपा ऐसा संगठन है जो समाज निर्माण और देश हित को सर्वोपरि रखते हुए राजनीति करता है। इस दौरान विधायक घनश्याम दास सर्राफ, प्रदेश महामंत्री संदीप जोशी, प्रदेश सचिव मनीष मित्तल,भाजपा जिलाध्यक्ष शंकर धूपड़, पूर्व जिलाध्यक्ष नंदराम धानिया, भाजपा प्रदेश सचिव मुकेश गौड़, महिला मोर्चा प्रदेश उपाध्यक्ष मीना परमार, प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य ठा. विक्रम सिंह,  सोनू सैनी, महिला मोर्चा जिलाध्यक्ष बबीता तवंर सहित पार्टी के अनेक पदाधिकारी मौजूद रहे।

 Global Newsletter

  • Facebook
  • social-01-512
  • Twitter
  • LinkedIn
  • YouTube