किसान दिवस पर अन्नदाता सड़कों पर-सैलजा

चंडीगढ़, (अदिति) - हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी सैलजा ने कहा कि आज पूरे देश में किसान दिवस मनाया जा रहा है, लेकिन भाजपा सरकार ने ऐसी स्थिति पैदा कर दी है कि कोरोना महामारी के बीच इस भीषण ठंड में अन्नदाता सड़कों पर हैं। अन्नदाता लगातार बलिदान दे रहे हैं। कुछ चुनिंदा पूंजीपतियों की खातिर भाजपा सरकार जानबूझकर किसान आंदोलन पर अंधी, गूंगी व बहरी बनी हुई है और हिटलरशाही पर उतारू है। किसानों को दिल्ली के किसान घाट पर पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह जी को श्रद्धांजलि अर्पित करने से रोकना और मुख्यमंत्री मनोहर लाल को काले झंडे दिखाने पर किसानों पर हत्या के प्रयास समेत अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज करना केंद्र और प्रदेश की भाजपा सरकार की किसान विरोधी मानसिकता को दर्शाता है। यह बातें हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी सैलजा ने यहां जारी बयान में कहीं। कुमारी सैलजा ने कहा कि भाजपा सरकार लगातार हिटलरशाही पर उतारू होकर लोकतंत्र को रौंदने का कुत्सित प्रयास कर रही है। आज पूरा देश पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह जी की जयंती पर उन्हें नमन कर रहा है। इस अवसर पर किसानों को दिल्ली के किसान घाट पर चौधरी चरण सिंह जी को श्रद्धांजलि अर्पित करने से रोकना केंद्र की भाजपा सरकार की हिटलरशाही को उजागर करता है। चौधरी चरण सिंह जी किसानों के मसीहा थे। किसानों को उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करने से रोकना पूरे देश के अन्नदाताओं का अपमान है। भाजपा सरकार इसके लिए देश के समस्त अन्नदाताओं से माफी मांगे। वहीं कुमारी सैलजा ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल को काले झंडे दिखाने वाले किसानों पर हत्या के प्रयास समेत अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज किए जाने को लेकर कहा कि हरियाणा की भाजपा सरकार बर्बरता की सभी हदें पार कर रही है। किसानों पर हत्या के प्रयास समेत अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज करना इस सरकार की बौखलाहट को दिखाता है। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में सभी को अपनी बात रखने का अधिकार है। लेकिन जब लोगों की आवाज को दबाया जाए, लोगों का सरकार से विश्वास खत्म हो जाए, तो लोग अपने हकों के लिए सड़कों पर आने के लिए मजबूर होते हैं। भाजपा सरकार द्वारा निरंतर किसानों की आवाज दबाई जा रही है। हरियाणावासियों का विश्वास इस सरकार से पूरी तरह से खत्म हो चुका है। यही वजह है कि किसानों द्वारा मुख्यमंत्री मनोहर लाल को काले झंडे दिखाए गए। जिसके बाद बौखलाहट में सरकार ने किसानों पर हत्या के प्रयास समेत अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है। कुमारी सैलजा ने कहा कि इससे पहले भी हरियाणा की भाजपा सरकार द्वारा किसानों पर दमनपूर्वक कार्रवाई की गई है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल को काले झंडे दिखाना आखिर कैसे हत्या के प्रयास का मामला हो गया? उन्होंने कहा कि किसानों पर मुकदमे दर्ज करना अत्यंत ही निंदनीय है। सरकार तुरंत किसानों पर दर्ज मुकदमे वापस ले।

 Global Newsletter

  • Facebook
  • social-01-512
  • Twitter
  • LinkedIn
  • YouTube