खट्टर ने आम लोगों की समस्याओं का किया निराकरण

करनाल (ग्लोबल न्यूज़)- हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने आज करनाल में जनता दरबार लगाकर आम लोगों की समस्याओं का निराकरण किया और अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए कि वह जनता की समस्याओं एवं शिकायतों का तत्परता से निवारण करें। जनता दरबार में गांव समालखी जिला कुरुक्षेत्र की शिकायत पर जल शक्ति अभियान 2019 के तहत करवाए गए कार्यों के बिलों का समय पर भुगतान न करने पर कृषि एवं किसान कल्याण विभाग की हैड ड्राफ्ट्समैन सरिता व लिपिक मनोज कुमार को निलम्बित करने के निर्देश दिए। जनता दरबार में करीब 60-70 लोगों ने अपनी समस्याएं मुख्यमंत्री के समक्ष प्रकट की, जिनमें से अधिकांश का मौके पर ही समाधान कर दिया । शेष समस्याओं के समाधान के लिए संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए। जनता दरबार में लोगों ने सडक़ों की मरम्मत व चौड़ा करने, पुलिस कार्रवाई बारे तथा अवैध निर्माण को रोकने बारे भी अनुरोध किया। इसके अलावा केंसर पीडि़त ने आर्थिक सहायता, रामनगर की गरीब महिलाओं ने मकान की मरम्मत करवाने बारे, निगदू में पुस्तकालय खुलवाने बारे भी आवेदन दिया। इस दौरान लोगों ने पीएचसी बनाने पर मुख्यमंत्री का आभार प्रकट किया। मुख्यमंत्री ने जनता दरबार में गांव डबरी, जरीफाबाद, पुण्डरक, काछवा, कलामपुरा तथा रतनगढ़ के सरपंचों के अनुरोध पर 6 गांवों में करीब 2 करोड़ रूपये के विकास कार्यो की सौगात दी। उन्होंने कहा कि लोगों की मूलभूत सुविधाओं से जुड़े विकास कार्यो को प्राथमिकता के आधार पर पूरा करवाएं। मुख्यमंत्री ने रामनगर के तीन गरीब परिवारों को मकान मरम्मत के लिए 50-50 हजार रूपये की आर्थिक मदद देने की घोषणा की। इस अवसर पर करनाल के उपायुक्त श्री निशांत कुमार यादव, पुलिस अधीक्षक श्री गंगाराम पुनिया सहित कई गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे। हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने आज करनाल में 80 करोड़ 54 लाख 96 हजार रुपये लागत की 22 विकास परियोजनाओं का उद्घाटन एवं शिलान्यास कर जिलावासियों को सौगात दी। इनमें 18 करोड़ 7 लाख 82 हजार रुपये की लागत से 5 परियोजनाओं का उद्घाटन एवं 62 करोड़ 47 लाख 14 हजार रुपये की 17 परियोजनाओं का शिलान्यास शामिल है। मुख्यमंत्री ने जिन 5 परियोजनाओं का उद्घाटन किया, उनमें 2 करोड़ 16 लाख 53 हजार रुपये की लागत से घरौंडा कस्बे में नवनिर्मित 3 बेज का बस स्टैंड, 11 करोड़ 32 लाख 94 हजार रुपये की लागत से तैयार रेलवे अंडर ब्रिज, 1 करोड़ 73 लाख 71 हजार रुपये की लागत से कस्बे के गंदे नाले के साथ लगती सडक़ का निर्माण जिसके साथ एलईडी लाईट, लोहे का जाल व कथूरिया होटल सर्विस रोड से रेलवे बाऊंड्री घरौंडा तक अष्टकोणीय पोल शामिल है। घरौंडा कस्बा में ही 1 करोड़ 96 लाख रुपये की लागत से रेलवे स्टेशन के निकट वार्ड नम्बर 3 की धर्मबीर कॉलोनी में विकसित किए गए पार्क का भी उद्घाटन किया। इसी प्रकार मुख्यमंत्री ने करनाल रेलवे स्टेशन के निकट वार्ड नम्बर 19 में 88 लाख 64 हजार रुपये की लागत से बनाए गए पार्क को जनता को समर्पित किया। मुख्यमंत्री ने 17 विकास परियोजनाओं का शिलान्यास भी किया। इनमें जिला के मिरगैन गांव में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र और उसमें बनने वाले रिहायशी मकानों का शिलान्यास शामिल है। इस कार्य पर 3 करोड़ 88 लाख 2 हजार रुपये की राशि खर्च होगी। इसी प्रकार नगर निगम क्षेत्र में 62 लाख 24 हजार रुपये की लागत से सिरसी गांव में सामुदायिक केन्द्र का निर्माण, करनाल-कैथल रोड पर 47 लाख 16 हजार रुपये की लागत से गुरुनानक द्वार, करनाल-काछवा रोड पर 48 लाख 91 हजार रुपये की लागत से स्वामी विवेकानंद द्वार, करनाल-कुंजपुरा रोड पर 47 लाख 32 हजार रुपये की लागत से मां सरस्वती द्वार, कर्ण स्टेडियम के निकट बाल भवन में 80 लाख रुपये की लागत से डे-केयर सेंटर हॉल, करनाल-मुनक रोड पर 49 लाख 31 हजार रुपये की लागत से कल्पना चावला द्वार जैसे कार्यों का शिलान्यास किया। नगर निगम क्षेत्र में ही रेलवे लाईन के साथ लगते वार्ड नम्बर 17 के शास्त्री नगर में 82 लाख 92 हजार रुपये से इंटर लॉकिंग पेयर ब्लॉक लगाना, 33 लाख 26 हजार रुपये की लागत से 19 वार्ड में भी इंटर लॉकिंग पेयर ब्लॉक लगाना तथा कम्बोपुरा के निकट अम्रुत योजना के तहत सीवरेज, इंटर मीडिएट पंपिंग स्टेशन व 8 एमएलडी क्षमता के सीवरेज ट्रीटमेंट प्लान का भी मुख्यमंत्री ने शिलान्यास किया। मुख्यमंत्री स्मार्ट सिटी लिमिटेड की 7 परियोजनाओं का भी शिलान्यास किया। इनमें 6 करोड़ 3 लाख रुपये की लागत से ओपन एयर जिम, 2 करोड़ 50 लाख रुपये की राशि से कल्चरल कॉरिडोर, 5 करोड़ 70 लाख रुपये की लागत से टैक्टाईल फ्लोरिंग के साथ फुटपाथों का निर्माण, 3 करोड़ 95 लाख रुपये की लागत से सडक़ों पर बिटुमिन, कंकरीट व इंटर लॉकिंग टाईलें लगाना, 3 करोड़ 3 लाख रुपये की लागत से एनएच पर स्थित फ्लाई ओवरों का सौंदर्यीकरण व प्लाजा, 6 करोड़ 30 लाख रुपये की लागत से पश्चिमी यमुना नहर पर कैनाल फ्रंट एंड डेवल्पमेंट तथा 94 लाख रुपये की लागत से शिवाजी कॉलोजी में मिनी स्टेडियम का शिलान्यास शामिल है। इस अवसर पर घरौंडा के विधायक श्री हरविन्द्र कल्याण, इंद्री के विधायक श्री रामकुमार कश्यप, करनाल के उपायुक्त श्री निशांत कुमार यादव, पुलिस अधीक्षक श्री गंगाराम पुनिया सहित काईं गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।

 Global Newsletter

  • Facebook
  • social-01-512
  • Twitter
  • LinkedIn
  • YouTube