देश भगत यूनिवर्सिटी में महर्षि चरक जयंती मनाई गई

चंडीगढ़ (गुरप्रीत)  देश भगत आयुर्वेदिक कॉलेज और अस्पताल ने विश्व आयुर्वेद परिषद के सहयोग से मंडी गोबिंदगढ़ के देश भगत विश्वविद्यालय परिसर में महर्षि चरक जयंती मनाई। डीबीयू के हर्बल गार्डन में एक वृक्षारोपण अभियान आयुर्वेद विज्ञान में महर्षि चरक के अनमोल योगदान को मनाने और सम्मानित करने के लिए आयोजित किया गया । डॉ जोरा सिंह, चांसलर, डीबीयू और प्रो-चांसलर डॉ तेजिंदर कौर ने औषधीय और हर्बल पौधों के पौधे लगाए और कहा कि महर्षि चरक ने "चरक संहिता" में 100,000 हर्बल पौधों के औषधीय गुणों और कार्यों का वर्णन किया है और दुनिया उन्हें  पाचन, चयापचय और प्रतिरक्षा की अवधारणा का वर्णन करने वाले पहले व्यक्ति के रूप जानती है ! डॉ कुलभूषण वशिष्ठ, डायरेक्टर डी बी ए सी एंड एच, डॉ सत्य देओ पांडेय , प्रिंसिपल डी बी ए सी एंड एच, डॉ बलजीत सिंह, सी एम ओ डी बी एच और संकाय सदस्यों ने पर्यावरण के अनुकूल प्रथाओं के साथ पर्यावरण संरक्षण और मानव जीवन में प्रकृति के महत्व के बारे में लोगों को जागरूक करने के लिए निरंतर प्रयास करने का संकल्प लिया।

 Global Newsletter

  • Facebook
  • social-01-512
  • Twitter
  • LinkedIn
  • YouTube