देश में असली टुकड़े-टुकड़े गैंग भाजपा है: सुखबीर सिंह बादल

बठिंडा: शिरोमणी अकाली दल के अध्यक्ष सरदार सुखबीर सिंह बादल ने कहा है कि देश में भाजपा ही असली ‘टुकड़े टुकड़े’ गैंग है। यह एक समुदाय को दूसरे के खिलाफ करके देश को हिस्सों में बांट रही है। भाजपा सत्ता के लिए इतनी हताश है कि साम्प्रदायिक ध्रुवीकरण का रास्ता लेकर देश को आग की लपटों में धकेलने में संकोच नही कर रही है। आज बठिंडा में पत्रकारों से बातचीत करते हुए सरदार बादल ने कहा कि भाजपा ने पहले हिंदूओं को मुसलमानों के खिलाफ किया। अब यही खेल पंजाब में खेल रही है। यह पंजाब में हमारे शंातिप्रिय हिंदू भाईयों को उनके सिख भाईयों के खिलाफ करने की साजिश कर रही है जिनके साथ उन्होने सदियों से खून के मजबूत बंधन सांझा किए हैं। भाजपा खून के उन बंधनों को रक्तपात से बदलना चाहती है। सरदार बादल ने कहा कि भाजपा तुच्छ राजनीतिक लाभ के लिए शांति तथा साम्प्रदायिक सदभाव के मुश्किल से बनाए माहौल को बिगाडने की खतरनाक साजिश का सहारा ले रही है भाजपा लीडरशीप को यह समझना होगा कि आज उनकी पार्टी सबसे शक्तिशाली विभाजनकारी ताकत बन गई है यह धर्म के नाम पर नफरत फैलाकर देश तथा यहां के लोगों को बांट रही है। किसान आंदोलन का जिक्र करते हुए सरदार बादल ने कहा कि भाजपा को छोड़कर पूरा देश अपने देशभक्त किसानों और सैनिकों के कर्जे को स्वीकार करता है। उन्होने कहा , भाजपा उस कर्ज को नकारने के लिए लोगों को उकसा रही है। यह केवल किसानेां के बलिदानों का भावनात्मक रूप से शोषण करने में विश्वास करता है लेकिन उनके लिए इतनी कृतध्न है कि यह उन्हे राष्ट्र विरोधी के रूप में चित्रित कर रहा है। आज किसान हैं , कल कोई नही जानता अगर पार्टी के अनुकूल हुआ तो वह देश के सैनिकों के बारे में भाजपा क्या कह सकती है। उन्होने कहा कि ‘किसान भाजपा से आहत तथा नाराज हैं वे सरकार के खिलाफ नही हैं। सरदार बादल ने चंडीगढ़ पार्टी मुख्य कार्यालय से जारी बयान में कहा कि ‘पंजाब में भाजपा के विनाशकारी खेल के बारे में देश वासियों को सावधान करना हमारा राष्ट्रीय कर्तव्य है। यह पार्टी सत्ता के लिए बेताब है तथा हिंदू सिखों को एक दूसरे के खून का प्यासा बनाने तथा महान गुरु साहिबान द्वारा हमें वसीयत में किए गए एकता तथा भाईचारे के ताने-बाने को नष्ट करने जिसे कबीर साहिब, बाबा फरीद जी, जयदेव जी, नामदेव जी और अन्य जैसे महान संतों द्वारा हम सबको एकता तथ भाईचारे के धागे में पिरोया गया था। अकाली दल अध्यक्ष ने कहा कि यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण तथा अविश्वसनीय है कि भारत की विरासत पर गर्व करने का दावा करने वाली पार्टी उस विरासत की बुनियाद को नष्ट करने के लिए कृतसंकल्प है। ‘ यह वह विरासत है जिसने पूरी दुनिया को शांति, साम्प्रदायिक सदभाव तथा मानव भाईचारे का रास्ता दिखाया है। लेकिन भाजपा इस विरासत को नष्ट करने तथा शांति तथा साम्प्रदायिक सौहार्द्र जो कि बड़ी मुश्किल से कमाए गए माहौल को नष्ट करने पर तुली हुई है।

 Global Newsletter

  • Facebook
  • social-01-512
  • Twitter
  • LinkedIn
  • YouTube