नशा कारोबारियों पर हरियाणा पुलिस का प्रहार

चंडीगढ़, (गुरप्रीत) - हरियाणा पुलिस ने मादक पदार्थ तस्करों द्वारा प्रदेश में भारी मात्रा में नशे की खेप धकेलने के मंसूबों को नाकाम करते हुए जींद और पलवल जिलों से 500 किलोग्राम डोडा पोस्त तथा 64 किलोग्राम 750 ग्राम गांजा जब्त किया है। पुलिस ने इस सिलसिले में चार आरोपियों को गिरफ्तार भी किया है। हरियाणा पुलिस के प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी देते हुए बताया कि जींद में सीआईए की एक टीम को गुप्त सूचना मिली कि उझाना और नेपेवाला गाँव के बीच एक नहर पटरी पर नशीले पदार्थों की बड़ी खेप रखी गई है। इसकी जानकारी मिलते ही पुलिस की टीम तुरंत घटनास्थल पर पहुंची और 500 किलोग्राम डोडा पोस्त बरामद किया। इस सिलसिले में एक व्यक्ति मोहित को भी काबू किया गया है। शुरुआती जांच में पता चला है कि आरोपी ने गांव उझाना के पास ड्रग की खेप रखवाई थी, जहां उसकी बहन का ससुराल है। इसे मध्यप्रदेश से एक कैंटर चालक उतार कर गया था और आरोपी को इसे पंजाब में सप्लाई करना था। वहीं पलवल जिले में, एंटी-व्हीकल थेफट टीम को एक गुप्त सूचना मिली कि दो व्यक्ति एक कार में ड्रग्स के साथ गांव उटावर की ओर जा रहे हैं। सूचना मिलने पर पुलिस ने बैरिकेड लगा दिए और वाहन को रोककर जब नियमानुसार तलाशी ली तो 54 किलो 450 ग्राम गांजा की बरामदगी हुई। पुलिनस ने मादक पदार्थ रखने के आरोप में मजलिस और वसीम निवासी जिला नूंह को गिरफ्तार किया गया। प्रारंभिक जांच में पता चला है कि गिरफ्तार आरोपी अपने सहयोगियों के साथ पड़ोसी जिलों में आपूर्ति के लिए ओडिशा से नशे की खेप लाते थे। प्रवक्ता ने बताया कि एक अलग मामले में, पलवल में सीआईए की टीम ने रेड के दौरान उत्तर प्रदेश के सिरा निवासी बिशम्बर को 10 किलो 300 ग्राम गांजा बरामद करने के बाद गिरफ्तार किया। उसका एक सहयोगी भागने में कामयाब रहा, जिसकी पहचान कर ली गई है और जल्द ही सलाखों के पीछे होगा। गिरफ्तार अभियुक्त ने खुलासा किया कि वह अपने सहयोगी के साथ राजस्थान के काखा गांव निवासी से गांजा लेकर आते थे। सभी आरोपियों के खिलाफ एनडीपीएस अधिनियम के प्रावधानों के तहत विभिन्न पुलिस स्टेशनों में मामले दर्ज कर इस संबंध में आगे की जांच जारी है।

 Global Newsletter

  • Facebook
  • social-01-512
  • Twitter
  • LinkedIn
  • YouTube